भाजपा प्रभारी पर खाचरियावास का निशाना, 'अपनी पार्टी की गुटबाजी संभालें'

भाजपा नेताओं को देना चाहिए पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर जवाब

By: firoz shaifi

Published: 21 Jun 2021, 08:26 PM IST

जयपुर। जयपुर दौरे पर आए भाजपा के प्रदेश प्रभारी अरूण सिंह की ओर से गुटबाजी की खबरें निकारने पर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने अरूण सिंह पर निशाना साधा है। खाचरियावा, ने कहा कि भाजपा के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह को इधर-उधर की बात करना छोड़ कर पेट्रोल-डीजल की दरों में हो रही लगातार वृद्धि के साथ केंद्र की नाकामियों का जवाब देना चाहिए।


खाचरियावास ने कहा कि प्रदेश भाजपा कई गुटों में बंटी हुई है। विपक्ष कोरोना संकट में गायब हो गया। राजस्थान के 25 भाजपा सांसद और बड़े भाजपा नेता एसी कमरों में बैठकर झूठी बयानबाजी करते रहे।

परिवहन मंत्री ने कहा कि कोरोना संकट से जूझ रहे मरीजों को संभालने के लिए अस्पतालों में नहीं गए, केंद्र से ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन और ब्लैक फंगस के इंजेक्शन दिलाने में पूरी तरह से फेल हो गए। जब भी प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह राजस्थान आते हैं तो केंद्र सरकार के कामकाज का हिसाब नहीं देते। केंद्र की योजनाओं का हिसाब देने की बजाए केंद्र की असफलताओं से ध्यान हटाने के लिए झूठ फरेब और धोखे की राजनीति करते हैं।

खाचरियावास ने कहा कि कोरोना संकट में केंद्र सरकार समय पर वैक्सीन उपलब्ध नहीं करा पाई, ऑक्सीजन और रेमडेसीवर इंजेक्शन के मैनेजमेंट में फेल हो गई, पेट्रोल-डीजल की महंगाई से पूरा देश त्रस्त है इसके बावजूद भाजपा नेताओं को शर्म नहीं आती।

बड़ी-बड़ी बातें करने वाले भाजपा नेताओं को यह बताना चाहिए कि 2014 में मनमोहन सिंह जब प्रधानमंत्री थे जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल बहुत महंगा था लेकिन पेट्रोल-डीजल सस्ता था, अब जब क्रूड ऑयल पूरे दुनिया में सस्ता हो गया है तब भारत में पेट्रोल-डीजल मोदी सरकार ने केंद्र की एक्साइज ड्यूटी और सेस बढ़ाकर महंगा कर दिया है। पूरा देश महंगाई से परेशान है लेकिन भाजपा नेता महंगाई पर और पेट्रोल डीजल पर बात नहीं करना चाहते।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned