अपहृत बालक की हत्या मामला : टूट गई मां की आस, ग्रामीणों में रोष

जोधपुर के बोरानाडा की मेघवाल बस्ती से तीस दिन पहले अपहृत होने वाले पांच वर्षीय अनिल मेघवाल के मिले अवशेषों के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया एम्स हॉस्पिटल में चल रही है। बच्चे के अपहरण व हत्या के मामले को लेकर रविवार को बोरानाडा बंद है।

जोधपुर के बोरानाडा की मेघवाल बस्ती से तीस दिन पहले अपहृत होने वाले पांच वर्षीय अनिल मेघवाल के अवशेष सूने खेत में मिलने से सनसनी फैल गई थी। इस संबंध में मिले अवशेषों के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया एम्स हॉस्पिटल में चल रही है। बच्चे के अपहरण व हत्या के मामले को लेकर रविवार को बोरानाडा बंद है। वहीं बालक के परिजन, ग्रामीण व क्षेत्र के रहवासी बोरानाडा थाने के बाहर धरना देकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

गौरतलब है कि गत 11 मार्च को अपहृत बालक अनिल के अवशेश शनिवार को घर से चार-पांच किमी दूर सूने खेत में मिलने से सनसनी फैल गई थी। उसकी मां ने जींस से लाडले के अवशेषों की शिनाख्त की थी। शव की हड्डियां आधी खेत में तथा आधी बाहर निकली हुई थीं। पुलिस को आशंका है कि अपहरण के बाद बालक से कुकर्म कर हत्या की गई है तथा फिर शव खेत में गाड़ दिया गया।

संदेह के आधार पर आधा दर्जन से अधिक युवकों को हिरासत में लिया गया है। परिजन व ग्रामीणों ने बोरानाडा थाने के बाहर प्रदर्शन कर रोष जताया। पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) समीर कुमार सिंह ने बताया था कि बच्चे को ढंूढ निकालने के लिए सर्च अभियान शुरू किया गया था। इस दौरान घर के करीब चार-पांच किमी दूर सालावास रोड पर सियागों की प्याऊ के पीछे टांके की तलाशी ली जा रही थी।

तभी कुछ दूरी से जाने वाले मार्ग के पास खेत में खड्डा नजर आया। उसमें से मानव शरीर के अवशेष बाहर निकले हुए थे, जिन्हें जानवर नोंच रहे थे। पुलिस को यह अवशेष अनिल के होने का संदेह हुआ, जिन्हें बाहर निकलवाया गया तो एक पांव के पास ही जींस भी मिली। अनिल के पिता, मां व अन्य परिजन को वहां बुलाया गया।

मां ने जींस की पहचान कर ली, जो अनिल ने गत 11 मार्च को अपहरण के दौरान पहन रखी थी। कार्रवाई के बाद अवशेषों को एमडीएम अस्पताल भिजवा दिया गया। फिलहाल अपहरण व हत्या करने वालों का पता नहीं लग पाया है।

Show More
Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned