यह है जयपुर का सबसे बडा ‘लुटेरा’, इस सीजन में अब तक 100 से अधिक जगह की लूट

यह है जयपुर का सबसे बडा ‘लुटेरा’, इस सीजन में अब तक 100 से अधिक जगह की लूट

Nishi Jain | Publish: Jan, 13 2018 09:02:58 PM (IST) | Updated: Jan, 13 2018 09:06:05 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

35 सालों से लूट रहा है पतंगें, 2500 लूटी पतंगों का है संग्रह

जयपुर। पतंग उड़ाने के साथ-साथ पतंग लूटने का भी शौक कई बच्चों को है। किशनपोल बाजार स्थित नमक की मंडी में रहने वाले अनवर कुरैशी को इसी शौक की वजह से पतंगों का लुटेरा कहा जाने लगा है। वह इस सीजन में अब तक 100 से अधिक पतंगों को लूट चुका है। यही वजह है कि उसके पास 2500 से ज्यादा पतंगों का संग्रह है। किशनपोल बाजार से वह पतंग लूटने के लिए नाहरगढ़ की पहाडिय़ों तक चला जाता है।

 

13 साल से जी रहा शौक को
अनवर ने बताया कि पतंग उड़ाने से ज्यादा उसे पतंग लूटने का शौक है। 13 साल की उम्र से पतंग लूटने वाला अनवर अब 35 साल का हो चुका है। पतंगों को लूटने के बाद वह इनको सुरिक्षत अपने कमरे में रखता है। 20 साल पुरानी लूटी हुई पतंगें भी सुरक्षित रखीं हैं। ये पतंगें खराब नहीं हों, इसके लिए वो इन पर पाउडर लगाता है। अब तक लूटी गई 2500 से अधिक अलग-अलग डिजाइन्स सुरक्षित रखी हुई है।

 

जीते कई अवार्ड
पतंगों को लूटने में काफी अवार्ड भी जीते हैं। उनके पास चांदी की पतंग भी हैं जो उन्हें सम्मान के तौर पर दी गई थी। इसके अलवा कई ऐसी ट्रॉफी भी हैं जो सबसे ज्यादा लूटी हुई पतंगों के लिए दी गई थी। अनवर की मां कहना है कि इस अनोखे शौक को देखते हुए इसकी शादी नहीं हुई। पिता के इंतकाल के एक दिन बाद वह पतंग लूटने निकल गया। पतंगों से इसे प्यार है, सुबह से शाम सिर्फ पतंगों का कलेक्शन ही करता रहता है।

 

जब कानोता तक लगाई दौड़

अनवर ने बताया कि पहले जलमहल की पाल पर होने वाले दंगलों में पतंग लूटते थे। अब कूकस के पास होने वाले काइट फेस्टिवल में जाते हैं। करीब दो-तीन साल पूर्व आमेर में हुए दंगल के दौरान कटी पतंग को लूटने के लिए कानोता तक दौड़ लगाई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned