मध्य रात्रि में 31 हवाई गर्जनाओं के साथ भगवान कृष्ण होंगे प्रकट

मध्य रात्रि में 31 हवाई गर्जनाओं के साथ भगवान कृष्ण होंगे प्रकट

Harshit Jain | Publish: Sep, 02 2018 10:31:24 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

-897 किलो पंचामृत से होगा गोविंदाभिषेक
-लाखों श्रद्धालुओं की दिखेगी भीड़, सोमवार तड़काव में 3.45 से 4.30 प्रात: होगी मंगला आरती
-दर्शनार्थियों के आवागमन को देखते हुए यातायात की रहेगी विशेष यातायात व्यवस्था

जयपुर. कान्हा के जन्म को छोटी काशी तैयार है। भाद्रपद कृष्ण अष्टमी पर सोमवार को मध्यरात्रि में भगवान श्रीकृष्ण जन्म लेंगे। शहर में जगह-जगह उनके स्वागत की तैयारियां जोरों-शोरों से की जा रही हैं। मंदिरों को जहां पूरी तरह सजाया जा चुका है, वहीं घरों में भी कान्हा का जन्म जश्न के तौर मनाया जाएगा। लड्डू गोपाल को पालने में झूलाया जाएगा। जन्माष्टमी के अवसर पर शहर के आराध्य देव गोविंददेवजी मंदिर में मध्य रात्रि में 31 हवाई गर्जनाओं के साथ भगवान कृष्ण प्रकट होंगे। ठाकुर जी का सुबह मंगला झांकी के बाद पंचामृत अभिषेक होगा। इसके बाद ठाकुरजी को नवीन पोशाक धारण कराई जाएगी। पीले सिल्क की पोशाक पर आरी-तारी जरदोजी की कारीगरी की गई है। इसे एक माह में दस कारीगरों ने तैयार किया है। पोशाक के साथ विशेष आभूषण धारण कराए जाएंगे। ठाकुजी का विशेष प्रकार के फूलों से श्रृंगार किया जाएगा।

897 किलो पंचामृत से होगा गोविंदाभिषेक
मंदिर प्रबंधक मानस गोस्वामी ने बताया कि मध्य रात्रि बारह बजे ठाकुरजी का पंचामृत से जन्माभिषेक होगा। यह 425 लीटर दूध, 365 किलो दही, 11 किलो घी, 85 किलो बूरा, 11 किलो शहद से तैयार होगा। भोग में पंजीरी लड्डू, खीर, रबड़ी कुल्हड़ में शामिल रहेंगे। अभिषेक के बाद सभी भक्तों को पंचामृत और पंजीरी का वितरण जय निवास बाग में बने प्रसादी मंच से किया जाएगा। इससे पूर्व रात्रि 12 बजे 31 तोपों की सलामी दी जाएगी और विशेष आतिशबाजी होगी। छह पंडित वेद पाठ करेंगे। शालिग्राम और पंच द्रव्य पूजन के बाद ठाकुरजी का पंचामृत अभिषेक किया जाएगा।

प्रवेश और निकास की व्यवस्था
सुबह मंगला झांकी से दर्शनार्थियों के दर्शन व्यवस्था प्रारंभ हो जाएगी। जलेब चौक से दर्शनार्थी प्रवेश करेंगे। एक लाइन पास धारकों के लिए और दो आम दर्शनार्थियों के लिए होगी। जो लोग जलेबी चौक से आएंगे उनका निकास जय निवास बाग पूर्वी गेट से होगा और जो दर्शनार्थी ब्र्रह्मपुरी, कंवर नगर की ओर से आएंगे। वहीं चिंताहरण हनुमान मंदिर से होते हुए जय निवास बाग पश्चिम द्वार से प्रस्थान करेंगे। श्रद्धालुओं को नि:शुल्क बांटे जाने वाले सागारी लड्डूओं के थाल जयनिवास उद्यान में बनाए प्रसादी मंच में रखे जा रहे हैं। पुलिस और स्वयंसेवी संस्थाओं के कार्यकर्ता व्यवस्थाएं संभालेंगे।

चार लाख की पोशाक
जगतपुरा स्थित कृष्ण-बलराम मंदिर में जन्माष्टमी पर विशेष श्रृंगार किया जाएगा। इस अवसर पर 201 व्यंजनों की झांकी सजाई जाएगी। दो बार भगवान की पोशाक बदली जाएगी। मंदिर के अध्यक्ष आर गोविंददास ने बताया कि ठाकुरजी का तीन बार अभिषेक होगा। दोपहर 12 बजे, शाम 6 से 8 बजे और जन्माभिषेक रात 10 से 12 बजे तक। वैशाली नगर स्थित बी.ए.पी.एस. स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर में ठाकुरजी का विशिष्ट श्रृंगार किया जाएगा और भगवान श्री कृष्ण के समक्ष अद्भुत झांकी सजाई जाएगी। मंदिर के बाल और युवक मंडल द्वारा कृष्ण लीला की सजीव प्रस्तुति की जाएगी। मंदिर में सुबह ८ से दोपहर 12.00 बजे तक और शाम 4.00 बजे से रात 11.00 बजे तक हरिकृष्ण महाराज के पंचामृत अभिषेक और रात 12.00 बजे कृष्णजन्मोत्सव की मुख्य आरती होगी। धौलाई स्थित इस्कॉन मंदिर में जन्माभिषेक के बाद वृंदावन से मंगाई गई चार लाख की नवीन पोशाक धारण कराई जाएगी। मंदिर अध्यक्ष पंचरत्न दास ने बताया कि गिरधारी दाउजी का दो बार विदेशी फलों और फूलों से अभिषेक किया जाएगा।

 

यहां भी रहेगी उत्सव की धूम
दुर्गापुरा टोंक रोड स्थित राधा-मोहन मंदिर, सिराहा ड्योढ़ी बाजार स्थित रामचंद्र मंदिर, नाहरगढ़ रोड स्थित चरण मंदिर, बड़ी चौपड़ स्थित लक्ष्मीनारायण बाईजी मंदिर, बनीपार्क स्थित राधा-दामोदरजी मंदिर, राजापार्क स्थित लक्ष्मीनारायण मंदिर, गोविंद देव जी मंदिर के मातहत मंदिरों में भी कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाएगा।
..................................................
रूट ट्रैफिक पुलिस
जयपुर.
जन्माष्टमी के मौके पर ट्रैफिक पुलिस उपायक्त यातायात लवली कटियार ने बताया कि गोविंददेवजी मंदिर में दर्शनार्थियों के लिए आवागमन को देखते हुए विशेष यातायात व्यवस्था रहेगी। यह व्यवस्था रविवार सुबह तीन बजे से लागू हो गई है।
१.दिल्ली से जयपुर आने- जाने वाली बसें ट्रांसपोर्ट नगर चौराहा, गोविन्द मार्ग, नारायण सिंह तिराहा, रामबाग सर्किल, 22 गोदाम, चौमू हाउस सर्किल, गर्वमेंट हॉस्टल होकर गुजरेगी।
2.चांदपोल गेट, न्यू गेट, अजमेरी गेट, सांगानेरी गेट, रामगंज चौपड़ और जोरावर सिंह गेट से अंदर की तरफ आने वाले भारी वाहनों का प्रवेष निषेध रहेगा।
3.गोविंद देवजी मंदिर आने वाले दर्शनार्थी अपने वाहन चौगान स्टेडियम, जलेबी चौक, सब्जी मंडी जनता मार्केट में पार्क कर सकेंगे। ग्लोब ट्रांसपोर्ट कम्पनी के बाई और दाई तरफ किसी भी प्रकार के वाहन पार्क नहीं हो सकेंगे।
4. सार्दुल सिंह की नाल आतिश मार्केट होकर सिटी पैलेस के सामने से जलेबी चौक तक सभी प्रकार के वाहनों का प्रवेश निषेध रहेगा।
5. हनुमान जी का मन्दिर और कंवर नगर की तरफ से आने वाले दर्शनार्थी अपने वाहन झूले लाल मन्दिर के पास खाली जमीन पर पार्क कर सकेंगे और ब्रह्मपुरी की तरफ से आने वाले दर्शनार्थी अपने वाहन पोण्ड्रिक उद्यान के सामने पार्क करेंगे।
6. मन्दिर सेवादारों के पासधारी वाहन चेलों के रास्ते से प्रवेश कर ग्लोबल ट्रांसपोर्ट कम्पनी से आगे निर्धारित पार्किंग स्थल पर पार्क हो सकेंगे।
7. गणगौरी बाजार चौगान चौराहा होकर मन्दिर जाने वाले दर्शनार्थी अपने वाहन चौगान स्टेडियम के अन्दर सड़क पर पार्क करेंगे।
8. बांदरवाल गेेट से प्रवेश करने वाले दर्शनार्थी अपने चौपहिया वाहन पुराना कार्यालय पुलिस अधीक्षक ग्रामीण के सामने, कृषि विभाग के सामने और पुराना कार्यालय ए.सी.बी. के सामने वीआईपी पार्किग रहेगी और दोपहिया वाहन गेट के अंदर प्रवेश कर पुराना कार्यालय महानिरीक्षक रेंज द्वितीय के सामने और रोजगार कार्यालय के सामने पार्क करेंगे। नगर परिषद की मोरी / आतिश मार्केट होकर निकास रहेगा।
9. इस व्यवस्था के दौरान ई-रिक्शा का प्रवेश द्वार चार दीवारी क्षेत्र में पूर्णतया निषेध रहेगा।

 

यह है झांकियों का समय
3 सितंबर
मंगला आरती 3.45 से 4.30 प्रात:
धूप आरती 7.30 से 9.30 प्रात:
श्रृंगार आरती 9.45 से 11.30 प्रात:
राजभोग आरती 11.45 से 1.30 दोपहर
ग्वाल आरती 4 से 6.30 सायं
संध्या आरती 6.45 से 8.30
शयन आरती 9.15 से 10.30

 

 

 

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned