लैब टेक्निशियनों को मिलेगा हर माह 500 रुपए इंसेंटिव

- शुरुआत में मई-जून के लिए मिलेगा, बाद में किया जाएगा इक्सटेंशन
- 10.75 लाख का बजट स्वीकृत, बाद में भी इंसेंटिव आगे बढ़ाया जाएगा

By: Sunil Sisodia

Updated: 06 Jun 2020, 12:46 AM IST

जयपुर.

कोविड महामारी में मेडिकल कॉलेजों और कोविड सेम्पल संग्रह केंद्रों पर कार्यरत लैब टेक्निशियनों के लिए राहत भरी खबर है। इन लैब टेक्निशियनों को 500 रुपए का इंसेंटिव दिया जाएगा। लैब टेक्निशियनों को शुरुआत में मई और जून का इंसेंटिव मिलेगा। इसके लिए 10.75 लाख रुपए की वित्तीय स्वीकृति मिल चुकी है। बाद में भी इंसेंटिव आगे बढ़ाया जाएगा।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत केंद्र सरकार से कोविड-19 के लिए प्राप्त स्वीकृति के अनुसार जिला स्वास्थ्य समिति को 10.75 लाख रुपए का बजट दिया गया है। बजट का उपयोग सिर्फ जिलों के मेडिकल कॉलेजों एवं जिलों के कोविड सैम्पल संग्रह केंद्रों(राजकीय) पर काम करने वाले लैब टेक्निशियन जो आरटीपीसीआर मोबाइल ऐप के माध्यम से सैम्पल लेने का काम कर रहे हैं। उनको दिया जाएगा। प्रदेश के 1075 लैब टेक्निशियनों को इसका लाभ दिया जाएगा।

खुद का मोबाइल और डाटा कर रहे इस्तेमाल
चिकित्सा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कई बार कोविड के चलते मेडिकल कॉलेजों और फील्ड में लैब टेक्निशियन ही सैम्पल लेने का काम कर रहे हैं। सैम्पल लेने से पहले उन्हें अपने मोबाइल में आरटीपीसीआर ऐप के जरिए मरीज की पूरी जानकारी भरी जाती थी। इसमें लैब टेक्निशियन खुद का इंटरनेट इस्तेमाल करता है। लैब टेक्निशियनों को प्रोत्साहित करने के लिए यह व्यवस्था की जा रही है।


लैब टेक्निशियन लगातार सैम्पल लेने के काम में जुटे हुए हैं। वे अपने मोबाइल में आरटीपीसीआर ऐप का उपयोग करते हुए मरीजों की जानकारी भर रहे हैं ताकि सैम्पल ट्रेक करने में आसानी हो। ऐसे में लैब टेक्निशियन को प्रोत्साहित करने के लिए इंसेंटिव दिया जा रहा है। इंसेंटिव को आगे भी बढ़ाया जाएगा।
्र- वैभव गालरिया, सचिव, मेडिकल शिक्षा

Sunil Sisodia Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned