scriptLast day of nomination in Panchayat elections in four district | पंचायत चुनाव में नामांकन का आज अंतिम दिन, बगावत के डर से कांग्रेस ने नहीं की प्रत्याशियों की घोषणा | Patrika News

पंचायत चुनाव में नामांकन का आज अंतिम दिन, बगावत के डर से कांग्रेस ने नहीं की प्रत्याशियों की घोषणा

दोपहर 3 बजे तक दाखिल किए जाएंगे नामांकन, कांग्रेस के जिला प्रभारियों ने फोन के जरिए ही पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों को किया सूचित,कांग्रेस, भाजपा, माकपा, बसपा और रालोपा जैसे दलों के प्रत्याशी भी आज ही करेंगे नामांकन

जयपुर

Published: December 02, 2021 10:17:29 am

जयपुर। प्रदेश के 4 जिलों कोटा, बारां, करौली और गंगानगर में हो रहे पंचायत और जिला परिषद चुनाव में आज नामांकन का अंतिम दिन है। सुबह 10:30 बजे नामांकन शुरू हो गए जो दोपहर 3 बजे तक दाखिल किए जाएंगे। कांग्रेस, भाजपा, रालोपा, बसपा, माकपा सहित कई क्षेत्रीय दलों के प्रत्याशी भी आज नामांकन दाखिल करेंगे।

rajasthan election commission
rajasthan election commission

वहीं दूसरी ओर सत्तारूढ़ कांग्रेस ने बगावत के डर से इस बार भी प्रत्याशियों की घोषणा सार्वजनिक नहीं की है और न ही उनकी सूची जारी की है। इससे पहले मंगलवार रात को ही कांग्रेस के प्रत्याशियों की सूची फाइनल हो गई थी जिसके बाद कांग्रेस के जिला प्रभारी प्रत्याशियों की सूची लेकर जिलों में पहुंचे थे।

फोन के जरिए अधिकृत प्रत्याशियों को सूचना
इधर बगावत के डर के चलते जहां कांग्रेस के जिला प्रभारियों ने प्रत्याशियों की सूची सार्वजनिक नहीं की तो वहीं फोन के जरिए ही उम्मीदवार बनाए गए प्रत्याशियों को सूचित किया गया और उन्हें चुनावी तैयारी पूरी रखने के निर्देश दिए गए। साथ ही साथ प्रत्याशियों को मिलने वाले पार्टी के सिंबल भी सीधे ही जिला परिषद मुख्यालय और पंचायत मुख्यालय पहुंचाए जा रहे हैं।


दोनों ही प्रमुख दलों को करना पड़ेगा बागी प्रत्याशियों का सामना
इधर पंचायत चुनाव में सत्तारूढ़ कांग्रेस के प्रमुख विपक्षी दल भाजपा को इस बार भी अपने-अपने बागियों के विरोध का सामना करना पड़ेगा। टिकट नहीं मिलने से नाराज बागी भी बड़ी संख्या में आज नामांकन दाखिल कर सकते हैं, जिससे दोनों ही प्रमुख दलों के सामने परेशानी खड़ी हो जाएगी।

नाम वापसी के बाद तेज होगा प्रचार
इधर पंचायत चुनाव में नाम वापसी के बाद ही प्रचार अभियान तेज होगा। तीन दिसंबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 4 दिसंबर को नाम वापसी का दिन है, जिसके बाद चुनाव मैदान में डटे प्रत्याशियों के बीच मुकाबला होगा। गौरतलब है कि पंचायत और जिला परिषद चुनाव के लिए नामांकन 29 नवंबर से शुरू हुए थे।

पहले चरण का चुनाव 12 दिसंबर, दूसरे चरण का चुनाव 15 दिसंबर और तीसरे चरण का चुनाव 18 दिसंबर को होना है। चारों जिला मुख्यालयों पर मतगणना सुबह 21 दिसंबर को सुबह 9 बजे शुरू होगी। 4 जिलों में से 106 जिला परिषद सदस्य, 567 पंचायत समिति सदस्य, चार जिला प्रमुख, चार उप जिला प्रमुख, 30 प्रधान और 30 उपप्रधान के चुनाव होना है। चारों जिलों की 973 ग्राम पंचायतों में कुल 4161 मतदान बूथ स्थापित किए गए हैं।

4 जिलों में 32 लाख से ज्यादा मतदाता कर सकेंगे मतदान
प्रदेश के बारां, कोटा, श्रीगंगानगर और करौली में 32 लाख 52 हजार 925 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इनमें से 17 लाख 15 हजार 945 पुरुष, 15 लाख 36 हजार 955 महिलाएं और 25 अन्य मतदाता हैं।

प्रत्याशियों के लिए चुनावी खर्च सीमा
चारों जिलों में पंचायत सदस्य और जिला परिषद सदस्यों के लिए अलग-अलग चुनाव खर्च राशि तय की गई है। जिला परिषद सदस्य के चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के लिए 1 लाख 50 हजार और पंचायत समिति सदस्य के लिए 75,000 रुपए खर्च सीमा निर्धारित की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी की भव्य प्रतिमा, पीएम करेंगे होलोग्राम का अनावरणAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनाव20 आईपीएस का तबादला, नवज्योति गोगोई बने जोधपुर पुलिस कमिश्नरइस ऑटो चालक के हुनर के फैन हुए आनंद महिंद्रा, Tweet कर कहा 'ये तो मैनेजमेंट का प्रोफेसर है'खुशखबरी: अलवर में नया सफारी रूट शुरु हुआ, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.