क्या सही में जन अनुशासन पखवाड़े में बड़ा कदम उठाने जा रही है सरकार... पढ़ें पूरी खबर और... करें तैयारी

जन अनुशासन पखवाड़े के दौरान भी मरीजों की संख्या बढ़कर बारह हजार तक जा पहुंची है। इसे लेकर अब सरकार जिलों की पुलिस के जरिए गुप्त रिपोर्ट तैयार करवा रही है कि

By: JAYANT SHARMA

Published: 20 Apr 2021, 11:44 AM IST

जयपुर
यकीन मानकर चलिए.... सरकार ने आखिरी मौका दिया है तरह से #lock-down लाॅकडाउन या कर्फ्यू से बचने के लिए। #Government सरकार के कई बड़े अफसरों ने पूर्ण लाॅकडाउन करने की सिफारिश की थी लेकिन उसके बाद भी सीएम ने यह कहते हुए जनता को आखिरी मौका दिया कि रोजगार पर प्रभाव पडेगा। लेकिन उसके बाद भी लोग मानने को तैयार नहीं हैं। #Jan-Anushan-Pakhvara जन अनुशासन पखवाडे का आज दूसरा दिन है और यह दिन पहले दिन से भी ज्यादा भीड़ा वाला है। अनुमत दुकानों के अलावा वह दुकानें भी सवेरे से खुलने लग गई जो अनुमत नहीं हैं। दूसरी ओर सरकार पुलिस अधीक्षकों और जिला कलेक्टर्स के जरिए लगातार जिलों की रिपोर्ट तैयार करवा रही है।

बाजारों में आज दूसरे दिन और ज्यादा हालात खराब.....
बाजारों में आज दूसरे दिन हालात और ज्यादा खराब हो गए। जयपुर शहर में चैपड़ों में खंदों में फूलमाला विक्रेता भी आ गए। पुलिस ने हटाना चाहा लेकिन कुछ देर सामान बेचने की मोहलत मांग ली। रामगंज में भी कई जगहों पर फुटपाथ पर दुकाने लगाकार सामान बिकने लगा। वाहन चालकों की भीड़ तो कल से भी ज्यादा दिखाई दी। सवेरे-सवेरे शहर के बाहर क्षेत्रों में भी काफी भीड़ नजर आई। जबकि मानसरोवर, प्रताप नगर, जगतपुरा, मालवीय नगर, वैशाली नगर, मुरलीपुरा, सीकर रोड पर हर दिन दर्जनों की संख्या में मरीज मिल रहे हैं।

गुप्त रिपोर्ट तैयार करवा रही है सरकार... संभल जाइए
जन अनुशासन पखवाड़े के दौरान भी मरीजों की संख्या बढ़कर बारह हजार तक जा पहुंची है। इसे लेकर अब सरकार जिलों की पुलिस के जरिए गुप्त रिपोर्ट तैयार करवा रही है कि किस तरह से लोग बाहर निकल रहे हैं और क्या क्या बहाने बना रहे हैं। साथ ही यह भी पता किया जा रहा है कि खाद्य वस्तुओं की दुकानों को खोलने के अलावा अन्य दुकानें नहीं खुलने पर आमजन पर क्या प्रभाव पड रहा हैं। जिलों के पुलिस अधीक्षक इस तरह की रिपोर्टृस पुलिस मुख्यालय तक भेज रहे हैं। संभव है कि इन रिपोर्ट्स के आधार पर जल्द ही सरकार और ज्यादा सख्त कदम उठाए। बताया जा रहा है कि रिपोर्ट्स के आधार पर जल्द ही सरकार इस अनुशासन पखवाड़े को रिव्यू करने की तैयारी में है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned