निर्माण के 5 माह बाद ही पानी की टंकी में लीकेज

सरपंच ने लगाया निर्माण में घटिया निर्माण सामग्री उपयोग करने का आरोप

जयपुर। पावटा के राजनौता ग्राम में नवनिर्मित दो लाख पचास हजार लीटर पानी की टंकी में लीकेज का मामला सामने आया है। इस टंकी निर्माण को अभी 5 माह ही पूरे हुए हैं। निर्माण कार्यों में बरती गई लापरवाही के प्रति आमजन में आक्रोश बना हुआ है।

उल्लेखनीय है कि इस टंकी का लोकार्पण सात दिसंबर 2019 को किया गया था जिसमें कई जन प्रतिनिधि भी शामिल थे। ग्राम सरपंच सन्तरा देवी ने आरोप लगाते हुए कहा कि टंकी निर्माण में घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग किए जाने के कारण टंकी में लीकेज की समस्या सामने आ रही है। पानी कि टंकी में से चारों तरफ से पानी निकल रहा है। ग्रामीणों को डर है कि लीकेज के कारण कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

पानी की टंकी के पास ही राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भी है, और स्कूल खुलने के बाद बड़ी संख्या में विद्यार्थी यहां अध्ययन भी करने आते हैं। इस बारे में ग्रामवासी भाजयुमो मण्डल अध्यक्ष बिशन सिंह राजनौता, महेश सिंह शेखावत, राजनौता सरपंच संतरा देवी, सरपंच पति दीपक कुमार धानका , सुभाष ज्योतिषी, महिपाल सिंह, मोहन सिंह, सिकंदर सिंह, कृष्ण सिंह कई लोगों ने बताया कि जब टंकी का निर्माण हो रहा था तब भी घटिया सामग्री उपयोग में लिए जाने की शिकायत जलदाय विभाग ग्राम पंचायत में की गई थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। सरपंच सन्तरा देवी का कहना है कि जलदाय विभाग को सूचित कर इस टंकी के निर्माण की जांच करवाकर टंकी से हो रहे लीकेज को रोकने की मांग की गई है।

इधर, पावटा कनिष्ठ जलदाय अभियन्ता शिशुपाल सिह सैनी का कहना है कि जल्द ही ठेकेदार को बुलाकर इस टंकी के लीकेजो को सही करवा दिया जाएगा।

Show More
Suresh Yadav Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned