लॉक डाउन में मूक प​शुओं के निवाले पर संकट

पशुपालकों को सताने लगा चारे का संकट
शहर में पशुपालकों को नहीं मिल रहा चारा
पशुओं को पालने का मंडराने लगा संकट
चारे की सप्लाई भी शहर में बंद

जयपुर। शहर में एक दो दूधारू पशु पालकों के सामने अब पशुओं को रखने का संकट है। शहर में चारे की सप्लाई लगभग बंद हो चुकी है ऐसे में पशुओं को खिलाने के लिए सामग्री का इंतजाम करना बड़ी चुनौती बनने वाला है।
लॉक डाउन के बाद शहर में लोगों के लिए खाद्य सामग्री की सप्लाई के इंतजाम तो बराबर प्रशासन कर रहा है। जबकि शहर में दूधारू पशु रखने वाले पशु पालकों के सामने अब जानवरों को पालने का संकट है। शहर में पशु चारा सप्लाई कर रहे सप्लायरों ने बताया कि पशुओं के लिए कुट्टी और खाखला की सप्लाई शहर के आस पास के कस्बों से शहर में होती है। फिलहाल गेहुं,जौ,चने की फसलों की कटाई चल रही है ऐसे में कुट्टी और खाखले की सप्लाई पहले से ही कम थी और अब बिल्कुल बंद हो गई है। पशु चारा सप्लाई करने वाले वाहनों की आवाजाही लॉक डाउन के चलते बंद है ऐसे में धर्मार्थ में हरा चारा तक पशुओं के लिए सप्लाई नहीं हो रहा है। पशु चारा सप्लायर देवदास ने बताया कि पशु चारे की सप्लाई के लिए अन्य कस्बों के सप्लायरों से बात की है लेकिन अभी तक आगामी दिनों में कब तक पशुओं का चारा सप्लाई होगा फिलहाल इस पर संशय बना हुआ है।

ना घर ना बाहर मिल रहा चारा

गौरतलब है कि नई फसलों की कटाई के बाद सामान्यतया शहर के बाहरी इलाकों में गेहुं और जौ की कटाई कर बनाई जाने वाली कुट्टी और खाखले से लदे वाहनों की कतारें लगी नजर आती है। लेकिन अब लॉक डाउन होने से एक तरफ खेतों में फसलों की कटाई का काम बंद है। तो दूसरी तरफ जिन इलाकों में फसलों की कटाई हो चुकी है लेकिन ट्रकों और ट्रैक्टर ट्रॉलियों में चारे का लदान अब तक शुरू नहीं हो सका है। ऐसे में जयपुर शहर के पशु पालकों को उनके दुधारू पशुओं के लिए चारे की उपलब्धता कब तो होगी यह कहना मुश्किल है।


धर्मार्थ भी नहीं मिला चारा
शहर के कई स्थानों पर लोग धर्मार्थ में रजका हरा चारा पशुओं को डालते हैं। लेकिन बीते सप्ताहभर से ज्यादा समय हो गया है और धर्मार्थ चारा डालने वाले स्थानों पर पशुओं की आवाजाही तो है लेकिन पशुओं को धर्मार्थ चारा डालने वाले चारा उपलब्ध नहीं होने से नहीं पहुंच रहे हैं।

anand yadav Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned