Kisan Rath App : किसान रथ मोबाइल एप लॉन्च से कृषि उत्पादों का परिवहन

Kisan Rath App : केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान-रथ नामक एक मोबाइल एप लॉन्च किया। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से पैदा हुए संकट की घड़ी में यह मोबाइल एप कृषि उत्पादों के सुचारू परिवहन में मील का पत्थर साबित होगा। इसके लॉन्च होने के पहले ही दिन पांच लाख से अधिक वाहन उपलब्ध हो गए हैं।

By: hanuman galwa

Updated: 18 Apr 2020, 06:12 PM IST

किसान रथ मोबाइल एप लॉन्च से कृषि उत्पादों का परिवहन
लॉकडाउन में खेत से मंडी तक अनाज पहुंचाने में मदद

Lockdown Coronavirus Kisan Rath Mobile App

जयपुर। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान-रथ नामक एक मोबाइल एप लॉन्च किया। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से पैदा हुए संकट की घड़ी में यह मोबाइल एप कृषि उत्पादों के सुचारू परिवहन में मील का पत्थर साबित होगा। इसके लॉन्च होने के पहले ही दिन पांच लाख से अधिक वाहन उपलब्ध हो गए हैं।
तोमर ने कहा कि हमने कंट्रोल रूम भी बनाया है। सभी राज्यों से भी किसानों के हित में ऐसे कदम उठाने को कहा है। इससे राज्यों तथा केंद्र सरकार का तालमेल बेहतर होगा। कृषि उत्पादों का परिवहन भी आसान हो जाएगा। उन्होंने सभी किसानों से इस नए आयाम का इस्तेमाल कर इसका पूरा फायदा उठाने की अपील की। तोमर ने कहा कि विश्वव्यापी कोरोना वायरस के संक्रमण के दौर में देश में खेती-किसानी से जुड़े तमाम लोगों को हरसंभव मदद और राहत देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में केंद्र सरकार निरंतर काम कर रही है। इस अवसर पर केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री पुरषोत्तम रूपाला एवं कैलाश चैधरी समेत कृषि मंत्रालय में सचिव संजय अग्रवाल और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।
खेती-किसानी को छूट
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न राज्यों की मंडियों से जुड़े अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए तोमर ने कहा कि आज हम सब कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर संकट के दौर से गुजर रहे हैं। इससे बचाव के उपायों के तौर पर देशभर में लॉकडाउन जारी है। मौजूदा संकट के दौर में भी कृषि जरूरी है। लिहाजा केंद्र सरकार ने कृषि क्षेत्र के महत्व को देखते हुए लॉकडाउन के आरंभ से ही खेती-किसानी से जुड़े कार्यों को छूद दी है।
परिवहन में मददगार
कृषि उत्पादों के परिवहन में आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए किसान रथ मोबाइल एप लॉन्च किया गया है। किसान रथ नामक यह एप नेशनल इन्फोरेमेटिक्स सेंटर यानी एनआईसी की ओर से विकसित किया गया है। खेतों से मंडियों और एक मंडी से दूसरी मंडी तक कृषि एवं बागवानी उत्पादों के परिवहन में किसान रथ एप मददगार साबित होगा।
परिवहन नेटवर्क
कृषि रथ एप पर किसानों को माल की मात्रा का का ब्यौरा देना होगा। उसके बाद परिवहन सुविधाएं उपलब्ध कराने वाली नेटवर्क कंपनी किसानों को उस माल को पहुंचाने के लिए ट्रक और किराए का ब्यौरा दिया जाएगा। पुष्टि मिलने के बाद, किसानों को एप पर ट्रांसपोर्टरों का विवरण मिलेगा और वे ट्रांसपोर्टरों के साथ बातचीत कर सकते हैं और उपज को मंडी तक पहुंचाने के लिए सौदे को अंतिम रूप दे सकते हैं।
5.7 लाख ट्रक सूचीबद्ध
कृषि मंत्रालय ने कहा कि पांच आन लाइन ट्रक बुकिंग कंपनियों ने 5.7 लाख से अधिक ट्रकों को एप पर सूचीबद्ध किया है । नई प्रणाली से किसानों, ट्रांसपोर्टरों और एग्रीगेटर्स और सरकार सबके लिए लाभ होने की उम्मीद है।

hanuman galwa Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned