ये तो मुहब्बत है... प्रेम की मारी अमेरीका की टैमी ने रचाई दसवीं पास सुनील से शादी

ये तो मुहब्बत है... प्रेम की मारी अमेरीका की टैमी ने रचाई दसवीं पास सुनील से शादी
love forever: tammy of america got married to tenth pass sunil

Dinesh Kumar Gautam | Updated: 15 Sep 2019, 09:25:57 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

कहते इश्क और मुश्क छिपाए नहीं छिपते। प्रेम किसी बंधन को भी नहीं मानता। फेसबुक पर राजस्थान के एक युवक की अमेरिका में बैठी युवती से हुई दोस्ती कब प्यार में बदल गई। दोनों को ही पता नहीं चला।

जयपुर rajasthan latest news कहते इश्क और मुश्क छिपाए नहीं छिपते। प्रेम किसी बंधन (love forever)को भी नहीं मानता। फेसबुक पर राजस्थान के एक युवक की अमेरिका में बैठी युवती से हुई दोस्ती कब प्यार में बदल गई। दोनों को ही पता नहीं चला।

हजारों किलोमीटर की दूरियां, भाषा का अलगाव और प्रेमी के पास रुपयों की कमी न जाने कितनी तकलीफें सामने थी, लेकिन तलब ऐसी कि युवक अमेरिका जाकर प्रेमिका से मिल नहीं पा रहा तो प्रेमिका ही आ गई उससे मिलने और फिर मंदिर में दोनों ने गांव वालों के सामने शादी भी रचा ली।

ये किस्सा नहीं हकीकत है राजस्थान के श्रीगंगानगर में पुरानी आबादी वार्ड नंबर आठ स्कूल नंबर सात के पास रहने वाले सुनील कुमार वाल्मीक (25) अपनी मां के साथ मामा के रहता है। वह मकानों में पीओपी का काम करता है। करीब एक -डेढ़ साल पहले फेसबुक पर उसकी दोस्ती अमेरिका की टैमी (37) से हो गई। टैमी तलाकशुदा महिला है।

दोनों की दोस्ती कुछ समय में ही प्यार में बदल गई और कसमें वादे होने लगे। इस दौरान ही दोनों एक-दूसरे से शादी रचाने की इच्छा जताई लेकिन सुनील कुमार ने उसको खुद के बारे में सब कुछ बता दिया कि वह आर्थिक रूप से कमजोर परिवार है।

इसके बाद भी वह नहीं मानी और उससे मिलने की इच्छा जताई। दसवीं पास सुनील को उससे अंग्रेजी में चैट व बात करने में दिक्कत होती थी। सुनील उससे मिलने के लिए वहां जाना चाहता था और आईलेट की तैयारी शुरू कर दी। कुछ दिनों पहले टैमी ने बताया कि वह भारत आ रही है। इस पर युवक की खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

उसने अपने परिवार के लोगों को इस बारे में बताया। परिजनों ने कोई आपत्ति नहीं की। 11 सितंबर को टैमी दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरी। जहां युवक उसको लेने लिए गया था। दिल्ली में दोनों ने कोर्ट मैरिज की और इसके बाद टैमी को लेकर श्रीगंगानगर अपने घर आ गया। जहां विदेशी दुल्हन के स्वागत व देखने के लिए आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई।

इलाके में जिसने भी विदेशी महिला से शादी के बारे में सुना वह दौडकऱ उसे देखने के लिए पहुंच गया। सुनील के घर बाहर आसपास के लोगों का तांता लग गया। सुनील ने मंदिर में ***** रीति रिवाज से टैमी से शादी रचाई और दुल्हन को अपने घर ले गया। सुनील के मामा शंकरलाल व चचेरे भाई कालूराम ने बताया कि शादी के बाद से दोनों बहुत खुश है।

टैमी फर्राटेदार अंग्रेजी बोलती है और सुनील अंग्रेजी में कमजोर है। टैमी हिन्दी भी समझने का प्रयास करने लगी है। सुनील ने इसका भी तोड़ निकाल लिया और मोबाइल पर हिन्दी को अंग्रेजी में ट्रांसलेट कर टैमी से बात कर लेता है। जो वह लिखती है, उसको हिन्दी में ट्रांसलेट कर लिया जाता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned