लव जिहाद के सीएम के बयान पर पूनिया ने साधा निशाना, बोले शर्मनाक है यह बयान

मध्यप्रदेश सरकार की तर्ज पर लव जिहाद के खिलाफ राजस्थान में भी कानून लाने की भाजपा की मांग पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वार किया है। गहलोत ने एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए कहा कि लव जिहाद भाजपा का देश को विभाजित करने और साम्पदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए बनाया हुआ एक शब्द है।

By: Umesh Sharma

Published: 20 Nov 2020, 04:34 PM IST

जयपुर।

मध्यप्रदेश सरकार की तर्ज पर लव जिहाद के खिलाफ राजस्थान में भी कानून लाने की भाजपा की मांग पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वार किया है। गहलोत ने एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए कहा कि लव जिहाद भाजपा का देश को विभाजित करने और साम्पदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए बनाया हुआ एक शब्द है।

मुख्यमंत्री के इस बयान पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने ट्वीट के जरिए पललटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री का लव जिहाद पर दिया बयान वोट बैंक की ओछी मानसिकता को दर्शाता है। कांग्रेस की देशभर में हो रही दुर्दशा से मुख्यमंत्री इतना विचलित हो जाएंगे, मुझे विश्वास ही नहीं होता है। विवाह एक धार्मिक और सामाजिक मान्यता प्राप्त संस्कार है। यह केवल व्यक्ति की स्वतंत्रता तक सीमित नहीं है। पूनियां ने भाजपा पर लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि लव जिहाद का शिकार होकर हमारे देश की बच्चियां उत्पीड़न का शिकार होती हैं यह जग जाहिर है। ऐसे में सीएम का यह बयान गलत है।

आपको बता दें कि लव जिहाद के खिलाफ मप्र की विधानसभा में विधेयक लाया जाएगा। विधेयक कानून का रूप लेने के बाद गैर जमानती धाराओं के तहत मामला दर्ज करने एवं दोषियों को पांच साल की कठोर सजा सुनाने का प्रावधान रहेगा। इसे लेकर भाजपा ने राजस्थान में इस तरह का कानून लाने की मांग की थी, जिस पर सीएम ने वार किया।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned