सज धज गए हैं गधे और घोडे, जयपुर में दो दिन चलेगा अनोखा गर्दभ मेला

सज धज गए हैं गधे और घोडे, जयपुर में दो दिन चलेगा अनोखा गर्दभ मेला

Vinod Sharma | Publish: Sep, 27 2017 07:09:11 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

दो दिन चलेगा

जयपुर। एशिया में अपनी अनूठी पहचान बना चुका गंधर्व मेला जयपुर के निकट स्थित गांव भावगढ़ बंध्या में कलकानी माता मंदिर के पास हर साल पशु मेला लगता है। इस मेले को खिलकाणी माता का मेला भी कहते है। मेले में दूर दराज से लोग गधे व घोडों का व्‍यापार करने आते है।

यह भी पढे: Campaign : राजस्थान पत्रिका ने विधार्थियों से निबंध प्रतियोगिता के माध्यम से जान...

 

श्री खलखाणी माता के गधंर्व मेले की शुरुआत 28 सितंबर को होगी। जयपुर नगर निगम और अखिल भारतीय गधर्व मेला विकास समिति के सामूहिक सहयोग से आयोजित किए जा रहे मेले का उद्घाटन समिति अध्यक्ष उम्मेद सिंह राजावत करेंगे। उन्होंने बताया कि मेले में प्रदेशभर से लोग शिरकत करेंगे। 29 सितंबर को समापन में सांस्कृतिक समारोह और पुरस्कार वितरण किया जाएगा।

यह भी पढे: एक नजर: गुजरात से शुरू हुई साइकिल यात्रा शाहपुरा पहुंची, शांति, सौहार्द व राष्ट्...

 

इस मेले में जम्मू कश्मीर, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा, यूपी, उतराखंड, मध्यप्रदेश, राजस्थान, व गुजरात आदि प्रदेशों से भी व्यापारी गधे-घोड़ों के क्रय-विक्रय के लिए काफी संख्या में पहुंचते हैं। किसी समय में गधों की संख्या अधिक होने से इसका नाम गदर्भ मेला पड गया था। लेकिन अब यहां आने वाले पशुओं में गधों से ज्यादा संख्या घोड़ों की होती है। यह मेला हर वर्ष शारदीय नवरात्र में लगता है। मेले में हर वर्ष हजारों गधे, घोड़े और खच्चर खरीदे बेचे जाते हैं।

यह भी पढे: Impact: रावण पर भी नोटबंदी-जीएसटी की मार, आर्थिक संकट में घिरे पुतला बनाने वाले ...

 


इन श्रेणियों में मिलेंगे पुरस्कार
समापन अवसर पर पर्यटन विभाग की ओर से अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। समिति के भगवत सिंह राजावत ने बताया कि पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान श्रेष्ठ नस्ल के पशु लाने वाले, सर्वाधिक पशु लाने वाले और सबसे सुंदर पशु सजाने वाले पशुपालकों को पुरस्कृत किया जाएगा। मेले में 100 रुपए से पन्द्रह हजार राशि तक के गधे मौजूद रहेंगे।

यह भी पढे: Look at it: जमीनी हकीकत से कोसों दूर स्वच्छता अभियान

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned