Maa Durga Murti Visarjan: पानी में दर्पण के समक्ष मां की प्रतिमा का दिखाया अक्ष

 

30 अक्टूबर को होगा लक्ष्मी पूजन

By: SAVITA VYAS

Published: 26 Oct 2020, 01:42 PM IST

जयपुर। शहरभर के दुर्गा पंडालों में आज दशमी पूजन व सिंदूर महोत्सव सहित अन्य कार्यक्रम हो रहे हैं। कोरोना के मद्देनजर सिंदूर महोत्सव में महिलाएं शामिल नहीं होंगी। अखंड सुहाग की लंबी कामना और सुख-समृद्धि के लिए मां के चरणों में सिंदूर अर्पित किया जाएगा। इसमें समाजजनों का प्रवेश निषेध रहेगा। इससे पूर्व रविवार को पुष्पांजलि कार्यक्रम व भोग आरती हुई। जयपुर दुर्गाबाड़ी अध्यक्ष डॉ.सुदीप्त सेन ने बताया कि दोपहर में मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम हुआ। इसमें पानी में दर्पण के समक्ष मां की प्रतिमा का अक्ष दिखाया गया। इसके साथ ही कई जगहों पर घट विसर्जित किए गए। आगामी दिनों में वियतनाम से पत्थर लाकर दुर्गाबाड़ी में माता का मंदिर बनाने की कवायद है। पांडालों में 30 अक्टूबर को लक्ष्मी पूजन होगा।

यहां भी होंगे कार्यक्रम

मालवीय नगर सेक्टर-10 कालीबाड़ी पार्क स्थित काली मंदिर में मां दुर्गा की दशमी पूजन के बाद घट विसर्जन व शांति जल कार्यक्रम हो रहा है। प्रतापनगर में सर्बोजनिन वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से पुष्पांजलि सहित अन्य कार्यक्रम हुए। आज कार्यक्रमों का समापन होगा।


कोरोना गाइडलाइन की उड़ाईं धज्जियां
इधर, श्रीमाधोपुर कस्बे के ढाणी डोंगरी वाली तन्हा शुरू में नवयुवक मंडल की ओर से मां दुर्गा की मूर्ति का विसर्जन सती वाला जोड़ा सती मंदिर के पास किया गया। इस दौरान भक्तों ने माता रानी के जयकारे लगाए। हालांकि इस दौरान कार्यकर्ताओं ने न तो मुंह पर मास्क लगा रखा था और न ही सोशल डिस्टेंस की पालना की गई। कार्यकर्ता मनोहर लाल सैनी ने बताया कि हर्ष हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी माता रानी के 9 दिन तक चलने वाली ढाणी डूंगर वाली में नर्मदेश्वर महादेव मंदिर में महाआरती की गई। इसके बाद गाजियाबाद के साथ सती वाले जोड़ा में विसर्जन किया गया। इस अवसर पर सज्जन कुमार सैनी, रोहित कुमार सैनी डूडा व राम सैनी सहित कई ग्रामीण लोग मौजूद थे।

Corona virus
SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned