24 स्थानों पर एक ही समय गंगाजली पूजन और तीर्थ स्थापना

अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से कुम्भ महापर्व (Kumbha Mahaparva) और शांतिकुंज की स्वर्ण जयंती (Golden Jubilee Shantikunj) के उपलक्ष्य में चलाए जा रहे 'आपके द्वार पहुंचा हरिद्वार' (Maha Kumbh Haridwar) अभियान के तहत मालवीय नगर में रविवार को 24 स्थानों पर एक ही समय देवस्थापना कराकर गंगाजली पूजन किया गया और तीर्थ स्थापना कराई गई।

By: Girraj Sharma

Published: 21 Feb 2021, 03:38 PM IST

24 स्थानों पर एक ही समय गंगाजली पूजन और तीर्थ स्थापना
— 'आपके द्वार पहुंचा हरिद्वार' अभियान
— अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से हुआ आयोजन
— बैनाड़ रोड स्थित गायत्री विहार कॉलोनी में पंच कुंडीय गायत्री महायज्ञ

जयपुर। अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से कुम्भ महापर्व (Kumbha Mahaparva ) और शांतिकुंज की स्वर्ण जयंती (Golden Jubilee Shantikunj) के उपलक्ष्य में चलाए जा रहे 'आपके द्वार पहुंचा हरिद्वार' (Maha Kumbh Haridwar) अभियान के तहत मालवीय नगर में रविवार को 24 स्थानों पर एक ही समय देवस्थापना कराकर गंगाजली पूजन किया गया और तीर्थ स्थापना कराई गई।

गायत्री शक्तिपीठ व्यवस्थापक रणवीर सिंह चौधरी ने बताया कि गायत्री परिवार जयपुर के समन्वयक ओम प्रकाश अग्रवाल के नेतृत्व में सभी यजमान औऱ आचार्य रामजीपुरा के राधा—मोहनजी मंदिर एकत्रित हुए। पार्षद रामप्रसाद शर्मा ने आचार्य और यजमानों का दुपट्टा डालकर स्वागत किया। नवीन सहल ने कुंभ महापर्व के साथ कुंभ के गंगाजल महत्व को समझाया। वहीं बैनाड़ रोड के दौलतपुरा स्थित गायत्री विहार कॉलोनी में पंच कुंडीय गायत्री महायज्ञ हुआ। आयोजन से जुड़े महेश सैनी ने बताया कि व्यासपीठ से हर्ष मिश्रा ने गायत्री यज्ञ संपन्न करवाया। यज्ञ में विश्व कल्याण की कामना के साथ आहुतियां अर्पित की गई। यज्ञ से पहले हरिद्वार कुंभ और शांतिकुंज स्वर्ण जयंती वर्ष के संयोग, मां गंगा का अध्यात्मिक और भौतिक महत्व, देव परिवार की परिभाषा, जीवन में उपासना, साधना, आराधना के महत्व पर उद्बोधन कार्यक्रम हुआ।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned