scriptMAKAR SANKRANTI JAIPUR KITE FESTIVAL 2022 | JAIPUR KITE FESTIVAL 2022 फीणी की 'मिठास' फीकी | Patrika News

JAIPUR KITE FESTIVAL 2022 फीणी की 'मिठास' फीकी

JAIPUR KITE FESTIVAL मकर संक्रांति का त्योहार इस बार 14 जनवरी को मनाया जाएगा। Makar Sankranti 2022 इसे लेकर बाजार सजकर तैयार है। JAIPUR KITE FESTIVAL बाजार में मकर संक्रांति को लेकर खरीददारी भी शुरू हो चुकी है। दान—पुण्य के लिए तिल के लड्डु, फीणी के अलावा कळपने की वस्तुओं की खरीदारी शुरू हो गई है। Covid Impact in Market हालांकि व्यापारियों की मानें तो फीणी की ग्राहकी अभी रंगत नहीं पकड़ पा रही है।

जयपुर

Published: January 11, 2022 10:22:07 am

JAIPUR KITE FESTIVAL मकर संक्रांति का त्योहार इस बार 14 जनवरी को मनाया जाएगा। Makar Sankranti 2022 इसे लेकर बाजार सजकर तैयार है। बाजार में मकर संक्रांति को लेकर खरीददारी भी शुरू हो चुकी है। दान—पुण्य के लिए तिल के लड्डु, फीणी के अलावा कळपने की वस्तुओं की खरीदारी शुरू हो गई है। हालांकि व्यापारियों की मानें तो फीणी की ग्राहकी अभी रंगत नहीं पकड़ पा रही है। बाजार में अभी गिने—चुने ही ग्राहक आ रहे है। इसके पीछे दुकानदार कोविड को कारण गिना रहे है। ऐसे में बाजार में कोविड का असर भी देखने को मिल रहा है। Covid Impact in Market अन्य सालों की तुलना में बाजार में रौनक फीकी ही नजर आ रही है।
Makar Sankranti 2022 फीणी की 'मिठास' फीकी
Makar Sankranti 2022 फीणी की 'मिठास' फीकी
पुरोहितजी के कटले सहित अन्य जगहों पर जहां महिलाएं कळपने के लिए 14—14 वस्तुएं खरीदती नजर आ रही हैं। वहीं शहर में मिठाइयों की दुकानों पर फीणी व तिल के लड्डुओं की बिक्री शुरू हो गई है। फीणी व तिल के लड्डु बेचने वाले सुदामा हलवाई ने बताया कि मकर संक्रांति को लेकर बाजार में फीणी व तिल के लड्डुओं की ग्राहकी शुरू हो गई है। हालांकि कोविड के चलते इस बार ग्राहकी अभी रफ्तार नहीं पकड़ रही है। संक्रांति के एक दिन पहले से ग्राहकी बढ़ने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि बाजार में फीणी 150 रुपए से लेकर 300 रुपए किलो तक बिक रही है, जबकि देशी घी की फीणी 550 से 900 रुपए किलो तक बिक रही है।
मकर संक्रांति से पहले शहर में पतंगबाजी शुरू हो गई है। शहर की छतें आबाद नजर आने लगी है। खासकर परकोटे में पतंगबाजी शुरू हो चुकी है। वहीं बाजार में संक्रांति को लेकर खरीददारी भी शुरू हो गई है। पतंगबाजार में लोगों की भीड़ नजर आने लगी है। हांडीपुरा, किशनपोल बाजार, चांदपोल बाजार, हल्दियों का रास्ता में पतंगों की दुकाने सजी हुई है। पतंग व्यापारी अलताफ कुरेशी ने बताया कि 1 रुपए से लेकर 100 रुपए तक कि एक पतंग बिक रही है, वहीं 20 पतंगों की एक कोड़ी 20 रुपए से लेकर 1800 रुपए तक बिक रही है। वहीं मांझा चरखी 300 रुपए से 2500 रुपए तक में बिक रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.