14 को मलमास खत्म, शुरू होंगे मांगलिक कार्य

15 जनवरी को आठ रेखीय सावा, गूजेंगीं शहनाइयां

जयपुर. एक महीने से चल रहा मलमास अगले सप्ताह 14 जनवरी को शाम से खत्म हो जाएगा। वहीं, अगले दिन पौषशुक्ल पक्ष नवमीं से मांगलिक कार्यों के साथ शादियों की शहनाइयां भी गूंजना शुरू हो जाएगी। बंशीधर पंचाग के निर्माता पं.दामोदर प्रसाद शर्मा ने बताया कि 14 जनवरी को शाम 7.52 बजे मकर राशि में सूर्य का प्रवेश होते ही मलमास खत्म हो जाएगा। 15 को पहला सावा आठ रेखीय सावा है, जो कि सर्वश्रेष्ठ माना जा रहा है। बाजारों में इन दिनों शादियों की खरीददारी परवान पर है। शहर के लालजी सांड का रास्ता, जौहरी बाजार, त्रिपोलिया में रात तक लोगों की ज्वैलरी, कपड़े आदि खरीदने की भीड़ नजर आ रही है।

 

15 जनवरी का मुहूर्त
दिवा लग्न में सुबह 8.51 से दोपहर 1.37 बजे तक।

 

मार्च तक 22 सावे
इस साल मार्च तक करीब 22 सावे होंगे। जिसमें 2 अबूझ सावे 10 फरवरी (बसंत पंचमी) और 8 मार्च (फुलरा दोज) का है। जनवरी में 15, 17, 18, 22, 23, 25, 26, 27, 29 के सावे हैं। फरवरी में 6, 8, 9, 10, 19, 21, 22 का सावा है। वहीं मार्च में 2, 3, 8, 9, 10, 12 मार्च का सावा है।

 

दुकानदार दे रहे हैं पैकेज
परकोटे में विभिन्न बाजारों में दुकानदार छोटे से लेकर बड़े सामान जैसे एसी, फ्रिज, वॉशिंग मशीन सहित अन्य उत्पादों के ग्राहकों को पैकेज मुहैया करवा रहे हैं। इसके साथ ही कपड़े और अन्य शादी समारोह में लेन-देन की वस्तुएं भी पैकेज में उपलब्ध करवा रहे हैं। कपड़ों आदि में राजस्थानी, गुजराती परिधान सहित कुर्ता-पायजामा, लहंगे ग्राहक ज्यादा खरीदना पसंद कर रहे हैं।

 

70 फीसदी गार्डन बुक
जयपुर विवाह स्थल समिति के अध्यक्ष भवानी शंकर माली ने बताया कि 15, 17, 18, 19 जनवरी के सावे के चलते 1000 से ज्यादा गार्डनों में से तकरीबन 70 प्रतिशत गार्डन बुक हो चुके हैं। आगामी सावों के लिए भी तीन माह से एडवांस बुकिंग लोगों ने शुरू कर दी है।

 

बैंड बाजे वाले पहनेंगे शेरवानी
एक बैंड के पंकज तारा ने बताया कि पुराने गीतों से धुनें बनाई हैं। है प्रीत जहां की रीत सदा.. सहित अन्य गानों को रीमिक्स में पेश किया है। दूल्हे जैसी शेरवानी थीम में डे्रस कोड बनाया है, ताकि वह भी एकदम रॉयल दिख सकें।

Mridula Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned