अल्पसंख्यकों का तुष्टीकरण कर रही ममता सरकार: धनखड़

पश्चिम बंगाल: मुख्यमंत्री और राज्यपाल के बीच तल्खी और बढ़ी

By: anoop singh

Published: 12 May 2020, 10:53 PM IST

कोलकाता. लॉकडाउन पर केंद्र से तनातनी के बीच पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ के बीच तल्खी बढ़ती दिख रही है। राज्यपाल ने शुक्रवार को ममता बनर्जी पर अल्पसंख्यक समुदाय का तुष्टीकरण करने का आरोप लगाया। उन्होंने ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी रणनीति कोविड-19 से निपटने में नाकामी से लोगों का ध्यान भटकाने वाली है।
ममता के पत्र के जवाब में धनखड़ ने कहा कि आपका पत्र इस चुनौतीपूर्ण समय में भयंकर गलतियां करने से जो भारी विफलता सामने आई है, उस पर बहानेबाजी की रणनीति के जरिए परदा डालने के लिए किए जा रहे प्रयासों का हिस्सा है।
उन्होंने कहा कि निजामुद्दीन मरकज कीघटना पर अल्पसंख्यक समुदाय के लिए आपका तुष्टीकरण अनुपयुक्त था। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है और इसका समर्थन नहीं किया जा सकता।
तीन पेजों का पत्र भेजा राज्यपाल ने
निर्वाचित और मनोनीत का अंतर याद दिलाए जाने के बाद राज्यपाल ने गुरुवार देर रात ममता को तीन पृष्ठों की एक चि_ी भेजी थी जिसमें 22 बिंदुओं पर उनका ध्यानाकर्षण किया था। इसमें मूल रूप से राज्यपाल ने ममता को संविधान की याद दिलाई है और कहा कि वह हर एक मौके पर राज्य के लोगों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने अथवा संविधान का अनुपालन करने में विफल रही हैं। राज्य में खराब राशन वितरण और बदहाल व्यवस्था को लेकर जमकर हिंसा हुई है। संविधान की शपथ याद दिलाते हुए राज्यपाल ने लिखा कि आपने इस बात की शपथ ली थी कि राज्य के लोगों के हित में बिना डर भय और बिना पक्षपात के काम करेंगी, लेकिन कोविड-19 के संकट में किस तरह से राज्य भर में पक्षपात हो रहा है यह आप भलीभांति जानती हैं। यह इस बात का प्रमाण है कि आप संवैधानिक तौर पर ली गई शपथ को निभाने में विफल रही हैं।
मौतों पर पूछा सवाल
एक इंटर-मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीम (आइएमसीटी) ने पं. बंगाल के मुख्य सचिव को लिखा है कि राज्य द्वारा नियुक्त पांच डॉक्टरों की एक समिति द्वारा यह पता लगाने के लिए कि क्या कोरोना वायरस के कारण मौतें हो रही हैं, का इस्तेमाल किया जाए। आइएमसीटी द्वारा सवाल ऐसे समय में आए हैं जब बंगाल से आने वाले कोरोन के आंकड़ों पर संदेह जताया गया है। ममता सरकार ने कहा है कि अगर कोई मरीज कोरोना से मर गया है तो केवल राज्य द्वारा नियुक्त समिति ही तय करेगी। कोरोना के कारण बंगाल में अब तक 514 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 15 की मौतें हो गई हैं।

Corona virus
anoop singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned