इस आदत से मजबूर पति ने डंडे से पीटकर कर दी पत्नी की हत्या, चार बच्चों से छिना मां का आंचल

मरने का पता चलते ही पति फरार हो गया..

By: dinesh

Published: 13 Mar 2018, 11:43 AM IST

जयपुर। जवाहर नगर टीला नंबर 3 में सोमवार सुबह शराब के नशे में पति ने डंडे से पीटकर पत्नी की हत्या कर दी। सात साल के बेटे की गवाही पर पुलिस ने पति को हिरासत में लिया है। सुरेश (32) आए दिन शराब पीकर पत्नी से मारपीट करता था। रविवार रात शराब के नशे में घर आकर संतोष (26) को उसने बुरी तरह पीटा। इसके बाद सोमवार सुबह भी मारपीट की। जब सुरेश ने पत्नी को अधमरी हालत में पाया तो इलाज के लिए एसएमएस अस्पताल लेकर गया। अस्पताल में डॉक्टर्स ने संतोष को मृत घोषित कर दिया। मरने का पता चलते ही सुरेश अस्पताल से फरार हो गया।


अस्पताल से मिली सूचना पर जवाहर नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। साथ ही मृतका का शव मोर्चरी में रखवाया। इसके बाद पुलिस ने पति सुरेश को झालाना से हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। हालांकि अभी तक थाने में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। मृतका का परिवार मंगलवार सुबह थाने पहुंचकर मामला दर्ज करवाएगा। पूछताछ में पता चला है कि सुरेश पत्नी पर शक करता था।


10 साल पहले हुई थी शादी
संतोष की 10 साल पहले शादी हुई थी। घटना के समय संतोष का भाई और उसके चारों बच्चे भी मौके पर मौजूद थे। पुलिस को हत्या की पूरी जानकारी संतोष के बड़े बेटे गोलू(10) ने दी।


वही दूसरी ओर पत्नी ही बनी हत्यारिन
जयपुर में ही करधनी क्षेत्र के खोराबीसल गांव में रविवार देर शाम एक घर में मृत मिले व्यक्ति की हत्या प्रकरण का पुलिस ने 12 घंटे में खुलासा कर दिया। साथ ही हत्या के आरोप में उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि मोहन वाटिका में रहने वाला दानसिंह राजपूत (58) घर पर ही मृत मिला था। वह मूलत: फतेहपुर सदर (सीकर) निवासी था। शक के आधार पर पुलिस मृतक की पत्नी सन्तोष कंवर (55) को थाने ले गई। यहां पूछताछ में उसने पति की हत्या करना स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि कहासुनी के दौरान आवेश में आकर दानसिंह ने लोहे की मूसली उठा ली। इस बीच मूसली सन्तोष के हाथ आ गई व उसने इससे दानसिंह के सिर पर वार किया। फिर पति के गले में चाकू घोंप दिया। काफी रक्त बहने के चलते दानसिंह ने दम तोड़ दिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned