जिन बेटियों को माता-पिता ने ठुकराया, धूमधाम से हुई उनकी शादी, पहुंचे कई वीवीआईपी, देखें वीडियो

महिला सदन से विदा हुई 12 बेटियां

By: pushpendra shekhawat

Published: 20 Jul 2018, 10:47 PM IST

Jaipur, Rajasthan, India

जया गुप्ता / जयपुर. जिन्हें माता-पिता ने ठुकरा दिया, उनके लिए सरकार ने परिवार की भूमिका निभाई और राज्य महिला सदन से शुक्रवार को 12 बेटियां शादी के बाद धूमधाम से अपने ससुराल विदा हुई। बेटियों की बारात दौसा, झुंझुनूं, सवाईमाधोपुर और जयपुर से आईं।

 

सभी रस्में निभाई

बेटियों की बारात महिला सदन के दरवाजे पर पहुंची। वहां तोरण मारकर दूल्हे व उनके परिजन अंदर पहुंचे। बेटियों की तरफ से बारात का स्वागत विभागीय मंत्री अरूण चतुर्वेदी, मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, लोकायुक्त एसएस कोठारी और अन्य विभागीय अधिकारियों ने किया। धूमधाम के बीच दूल्हा-दुल्हन का पाणिग्रहण संस्कार हुआ। उपस्थित सभी लोगों ने नवदम्पत्ती को आशीर्वाद दिया। शादी को लेकर जितनी खुश बेटियां दिखी, उनसे अधिक खुश बाराती दिखे। बधिर लड़कियों ने अपने लिए बधिर पति चुने। लेकिन, कार्यक्रम में दोनों साइन भाषा में बातचीत करते रहे।

 

लोगों की सोच बदलने का प्रयास
इस अवसर पर मंत्री अरूण चतुर्वेदी बताया कि महिला सदन कि विभाग बेटियों की नियमित सार-संभाल करता रहेगा। मुख्य सचिव डी बी गुप्ता ने कहा कि इस प्रयास से लोगों की सोच बदलेगी और समाज में बेटियों की लोग इज्जत करेंगे। वहीं विभाग और भामाशाहों की मदद से वर-वधू को 58 तरह के उपहार दिए गए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के अधिकारी संघ ने प्रत्येक बटी को 11-11 हजार, छात्रावास अधीक्षक ने 61 हजार सहित अन्य लोगों ने सहयोग किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned