नम आंखों से दी शहीद को अंतिम विदाई, गुंजायमान रहे शहीद अमर रहे के जयकारे

भोड़की गांव के विक्रम सिंह नरूका शनिवार को लद्दाख में ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए। उनका पार्थिव देह बुधवार को पैतृक गांव पहुंचा, जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई।

By: kamlesh

Published: 03 Mar 2021, 05:15 PM IST

गुढागौड़जी। भोड़की गांव के विक्रम सिंह नरूका शनिवार को लद्दाख में ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए। उनका पार्थिव देह बुधवार को पैतृक गांव पहुंचा, जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई। जिन्हें 10 साल के बेटे हर्ष और 6 साल के बेटे मानवेंद्र ने मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार से पहले शहीद को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

गौरतलब है कि लद्दाख में ड्यूटी के दौरान विक्रम का टैंक नाले में गिर गया था। जिससे उनकी निधन हो गया था। जानकारी अनुसार 90 आर्म्ड रेजीमेंट में लांस नायक के पद पर कार्यरत भोड़की निवासी विक्रम सिंह पुत्र घीसासिंह डयूटी पर थे। शनिवार रात को पेट्रोलिंग पर उनका टैंक नाले में गिर गया। हादसे में विक्रम सिंह शहीद हो गए। कमांडिंग अफसर ने इसकी सूचना परिजनों को फोन पर दी। इसके बाद गांव में मातम पसर गया।

लद्दाख में सेना का टैंक पलटा, भोड़की के सैनिक विक्रम सिंह शहीद

शहीद विक्रम के बड़े भाई कान सिंह ने बताया कि विक्रम सिंह 12वीं पास कर 2002 में सेना में भर्ती हुए थे। उनके दो पुत्र हैं, जो चौथी और LKG में पढ़ते हैं। परिवार में उनकी माता प्रेम कंवर, पत्नी प्रिया कंवर सहित परिजनों विक्रम सिंह के शहीद होने की जानकारी मिली तो घर का माहौल गमगीन हो गया।

गुढागौड़ज़ी से युवाओं ने बाइक रैली निकाली एवं शहीद अमर रहे के जयकारे लगाते रहे। इस दौरान प्रभारी मंत्री सुभाष गर्ग, सांसद नरेंद्र खीचड, ज़िला कलक्टर यूडी खान, एसपी मनीष तिवाड़ी, ज़िला प्रमुख हर्षिनी कुलहरि, विधायक राजेंद्रसिंह गुढा, पूर्व विधायक शुभकरण चौधरी, सीआई गुढा देवीसिंह, बीडीओ बाबुलाल रैगर, सीआई उदयपुरवाटी भगवानसहाय, सैनिक कल्याण बोर्ड झुंझुनूं अध्यक्ष परवेज अहमद सहित अनेक जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों ने शहीद को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned