scriptMartyrdom Day of Imam Ali in Jaipur in 2022 | हजरत अली का यौमे शहादत अकीदत, मातम और मजलिस के साथ मनाया | Patrika News

हजरत अली का यौमे शहादत अकीदत, मातम और मजलिस के साथ मनाया

देर रात तक विभिन्न मस्जिदों में मजलिस का आयोजन किया गया। वहीं 21वें रमजान को नमाज ए मगरिब के बाद शिया जामा मस्जिद में मजलिस में ईरान से आए रसूल दोस्त मोहम्मदी समेत अन्य आलिमों ने तिलावते कुरआन करते हुए खिताब किया। इस दौरान जहीन तकवी, शान तकवी और शाहिद अली समेत अन्य मौजूद रहे।

जयपुर

Published: April 23, 2022 11:25:08 pm

जयपुर. आमेर रोड कच्चा बंधा स्थित शिया जामा मस्जिद में हजरत मौला अली अलैहिस्सलाम की यौमे शहादत के तहत तीन दिनों तक विशेष आयोजन किए गए। इस दौरान मजलिसें हुई, जिनमें मौलाना नाजिश अकबर काजमी ने खिताब किया और इमाम हजरत अली के जीवन पर रोशनी डालते हुए उनके कारनामों और शहादत के बारे में बताया। इस दौरान बड़ी संख्या में समाजबंधुओं ने शिरकत की।
हजरत अली का यौमे शहादत अकीदत, मातम और मजलिस के साथ मनाया
हजरत अली का यौमे शहादत अकीदत, मातम और मजलिस के साथ मनाया
हजरत अली का यौमे शहादत अकीदत, मातम और मजलिस के साथ मनायासैयद जाफर अब्बास तकवी ने बताया कि हजरत अली के यौमे शहादत के मौके पर शिया समुदाय तीन दिनों तक काले कपड़े पहन कर मौला की शहादत का शोक मनाता है और अकीदत के साथ उन्हें याद करता है। नकवी ने बताया कि शुक्रवार देर रात तक विभिन्न मस्जिदों में मजलिस का आयोजन किया गया। वहीं 21वें रमजान को नमाज ए मगरिब के बाद शिया जामा मस्जिद में मजलिस में ईरान से आए रसूल दोस्त मोहम्मदी समेत अन्य आलिमों ने तिलावते कुरआन करते हुए खिताब किया। इस दौरान जहीन तकवी, शान तकवी और शाहिद अली समेत अन्य मौजूद रहे।
6ee4161a-af3e-4c49-9037-7789d69e974e.jpgयहां भी हुआ आयोजन
वहीं दूसरी ओर शिया इमामबारगाह हकीम मोमिन अली पन्नीगरान में भी मजलिस का आयोजन किया गया। फरहान रिजवी ने बताया कि यहां मौलाना सैय्यद अली ईमाम नकवी ने बयान किए। रिजवी ने बताया कि यौमे शहादत के तहत जयपुर के सभी अंजुमनों ने मातम किया। साथ ही राजस्थान समेत देश के लिए अमन और चैन की दुआ भी मांगी गई।

1d2e207a-15e0-438b-b05a-f82897c62845.jpgइधर, नियाज व नजर पेश की गई

वहीं दूसरी ओर सूफी खानकाह एसोसिएशन प्रदेश उपाध्यक्ष वाहिद यजदानी ने बताया कि हजरत अली के शहादत के मौके पर नियाज व नजर पेश की गई। इस दौरान हजरत अली की बहादुरी, दीनदारी और कारनामों पर बयान किए गए। अकीदतमंदों ने गरीबों और जरूरतमंदों को लंगर खिलाया और शरबत पिलाया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.