मीरा और एकलव्य पुरस्कार की संख्या में इजाफा


अब एक नहीं तीन तीन विद्यार्थियों को मिलेगा पुरस्कार
मुफ्त हवाई सफर भी कराएगी सरकार
राजस्थान स्टेट ओपन बोर्ड की शाषी परिषद की बैठक में लिया गया निर्णय

By: Rakhi Hajela

Published: 23 Jan 2021, 12:42 AM IST


राजस्थान में स्टेट ओपन बोर्ड से पढ़ाई कर भविष्य संवारने वाले विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। ओपन की संख्या में इजाफा करने और रिजल्ट में सुधार करने के लिए सरकार ने मीरा और एकलव्य पुरस्कार की संख्या में इजाफा किया है। अब एक नहीं बल्कि तीन.तीन छात्रों को ये पुरस्कार मिलेगा। साथ ही अव्वल आने वाले छात्रों को हवाई यात्रा के लिए सरकार मुफ्त टिकट देगी। यह निर्णय शुक्रवार को राजस्थान स्टेट ओपन बोर्ड की शाषी परिषद की बैठक में लिया गया। बैठक में लिए गए निर्णय की जानकारी देते हुए शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर तीन तीन विद्यार्थियों को पुरस्कृत किए जाने एवं प्रथम बार ब्लॉक स्तर पर भी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त विद्यार्थियों को भी ये पुरकार दिए जाने का निर्णय लिया गया। पुरस्कार राशि में राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त को क्रमश: 21 हजार, 11 हजार और जिला स्तर पर तीन विद्यार्थियों को क्रमश 11 हजार, 5100 और ब्लॉक स्तर पर क्रमश: 5100 रुए 3100 रुए एवं 3100 रु दिए जाएंगे।
दो बार ओपन से परीक्षा दें नौ बार मिलेंगे मौके

प्रदेश में स्टेट ओपन स्कूल अब छात्रों के लिए आगे बढऩे का अवसर देंगे। ऐसे विद्यार्थी जो नियमित पढ़ाई नहीं कर पाते उनके लिए सरकार स्टेट ओपन के माध्यम से नई योजना ला रही है। जिसके मुताबिक साल में दो बार ओपन से परीक्षा देनी होगी इसमें भी उन्हें नौ बार मौके दिए जाएंगे। यानी एक एक कर पास होते जाएं और यदि अव्वल आए तो पुरस्कार भी मिलेगा। स्टेट ओपन का रिजल्ट अब भी 35 फीसदी से ज्यादा नहीं हो पाया है। ऐसे में शिक्षा महकमा इसे 50 फीसदी तक ले जाने की कोशिशों में जुटा है जिससे पढ़ाई के प्रति उस वर्ग का रुझान बढ़ सके जो संसाधन के अभाव में 10वीं और 12वीं तक भी नहीं पढ़ पाते थे।
अन्य महत्वपूर्ण घोषणाएं
: प्रदेश भर में संदर्भ केंद्रों की संख्या में बढ़ोतरी।अब ब्लॉक स्तर तक स्टेट ओपन के संदर्भ केंद्र होंगे।
:स्टेट ओपन बोर्ड के प्रश्न पत्र अब माध्यमिक शिक्षा बोर्ड नहीं बल्कि स्टेट ओपन बोर्ड तैयार करेगा।
:स्टेट ओपन के पाठयक्रम को और सरल बनाया जाएगा।
:जिला और ब्लॉक स्तर पर भी एकलव्य और मीरा पुरस्कार दिए जाएंगे।
:स्टेट ओपन स्कूल हर जिले और ब्लॉक के महात्मा गांधी स्कूल को आर्थिक मदद करेंगे।
बेहतर रिजल्ट देने वाले सेंटर्स को सरकार दो दो लाख रुपए का इनाम देगी।
: आईटीआई उत्तीर्ण विद्यार्थियों को राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल से उत्तीर्णता पर माइग्रेशन प्रमाण पत्र एवं पास की मार्कशीट दी जाएगी।
: महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में प्रत्येक जिला मुख्यालय पर स्थित एक विद्यालय को 5.00 लाख रुपए एवं ब्लॉक स्तर पर स्थित विद्यालय को 2.50 लाख रुपए की राशि विद्यालय विकास के लिए दी जाएगी।
:आई टी सेल का गठन करने का भी निर्णय लिया गया।
:शिक्षा संकुल में विभिन्न विभागों के रिकॉर्ड एवं अन्य सामान रख.रखाव के लिए स्थान नहीं है इसके लिए राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल द्वारा शिक्षा संकुल परिसर में आवश्यकता का आकलन कर एक भवन का निर्माण किया जाएगा।
: राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल में आवेदन करने वाले विद्यार्थियों के अध्ययन के लिए वर्ष में एक बार 15 दिवसीय व्यक्तिगत सम्पर्क शिविर आयोजित किया जाता है। अब ये शिविर वर्ष में 02 बार आयोजित होगा।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned