बाल विवाह रोकथाम के लिए सजगता जरूरी

बाल विवाह रोकथाम के लिए सजगता जरूरी
बाल विवाह रोकथाम के लिए सजगता जरूरी

Tasneem Khan | Publish: Aug, 23 2019 08:22:16 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बाल विवाह रोकथाम के लिए सजगता जरूरी

जयपुर। महिला अधिकारिता निदेशालय में शुक्रवार को बेटी पढ़ाओ योजना एवं बाल विवाह रोकथान के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें राज्य के 60 गैर सरकारी संस्थानों, यूएनओ की सहयोगी संस्थान युएनएफपीए, यूनीसेफ, यूएन वीमन के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कार्यशाला में सभी गैर सरकारी संस्थानों के साथ मिलकर एक संगठन बनाने का निर्णय लिया गया, ताकि बेटियों और महिलाओं से जुड़भ् योजनाओं को राज्य में प्रभावी रूप से लागू किया जा सके। कार्यशाला में महिला अधिकारिता विभाग के निदेशक पीसी पवन ने बताया कि विभाग महिला सशक्तीकरण के मुद्दों पर सकारात्मक दिशा में पहल कर रहा है। अतिरिक्त निदेशक पीसी शर्मा ने विभाग के उद्देश्यों की जानकारी दी। वहीं बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के राज्य नोडल अधिकारी डॉ जगदीश प्रसाद ने योजना के बारे में जानकारी दी। वहीं साझा अभियान बाल विवाह मुक्त राजस्थान पर सहायक निदेशक कैलाश चंद्र शर्मा ने प्रजेंटेशन दिया। यूनीसेफ की ओर से चाइल्ड प्रोटेक्शन स्पेशलिस्ट संजय निराला ने बाल विवाह रोकथाम में सहयोग का भरोसा दिलाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned