अब चिंताएं होंगी खत्म ,मानसिक शांति पाने का यह है सबसे अच्छा मौका

जो जातक मानसिक तौर पर अशांत रहते हैं, बहुत जल्दी विचलित हो जाते हैं, जिन्हें चिंताएं घेरे रहती हैं, ऐसे लोगों के लिए चंद्रमा की पूजा लाभदायक रहती है।

By: deepak deewan

Updated: 01 Mar 2020, 12:58 PM IST

जयपुर।
इन दिनों फाल्गुन शुक्लपक्ष चल रहा है यानि हिंदू कैलेंडर के अनुसार आखिरी माह के अंतिम 15 दिनों का समय। फाल्गुन माह का शुक्लपक्ष 24 फरवरी से शुरू हुआ है और यह पक्ष 9 मार्च तक रहेगा। फाल्गुन शुक्लपक्ष की समाप्ति के दिन फाल्गुन पूर्णिमा पर होली का पर्व मनाया जाता है। इसके बाद चैत्र माह शुरू होगा और इसके पहले पक्ष के समापन के बाद चैत्र शुक्ल प्रतिपदा पर नव संवत्सर प्रारंभ हो जाएगा।

धर्मग्रंथों में फाल्गुन शुक्लपक्ष को धार्मिक—ज्योतिषिय संबंध में बेहद महत्वपूर्ण माना गया है। इस माह में अनेक अहम व्रत-उपवास और त्योहार होते हैं। फाल्गुन मास के शुक्लपक्ष में वसंत ऋतु रहती है। फाल्गुन शुक्लपक्ष में अधिक से अधिक फलों का सेवन करने की बात कही गई है। विशेष बात यह है कि यह माह मानसिक शांति प्राप्त करने के लिहाज से भी बहुत अहम है। दरअसल मानसिक शांति के लिए चंद्रदेव का आशीर्वाद जरूरी रहता है और धार्मिक—ज्योतिषिय ग्रंथों के अनुसार फाल्‍गुन शुक्लपक्ष चंद्र देव की आराधना के लिए सबसे उपयुक्‍त माना गया है; इस माह की गई चंद्र पूजा सबसे ज्यादा फलदायक होती है। मान्यता है कि फाल्गुन माह चंद्रमा का जन्‍म माह है। फाल्गुन मास की पूर्णिमा को ही चंद्रमा की उत्पति हुई थी। फाल्‍गुन मास में चंद्रमा का जन्‍म होने के कारण इस महीने चंद्रमा की पूजा—अर्चना करने का विशेष महत्‍व बताया गया है। इसलिए फाल्‍गुन माह में चंद्रोदय पर विशेष पूजा की जाती है। शुक्लपक्ष की द्वितीया तिथि पर चंद्रमा की पूजा करना सबसे ज्यादा फलदायी बताया गया है।

जो जातक मानसिक तौर पर अशांत रहते हैं, बहुत जल्दी विचलित हो जाते हैं, जिन्हें चिंताएं घेरे रहती हैं, ऐसे लोगों के लिए चंद्रमा की पूजा लाभदायक रहती है। चंद्रमा का दिन सोमवार है और वे शिवजी की पूजा करने से प्रसन्न होते हैं। फाल्गुन शुक्लपक्ष में शिवजी की आराधना करने से चंद्रमा का आशीर्वाद मिलता है। इस अवधि में ओम नम: शिवाय मंत्र का ज्यादा से ज्यादा जाप करें। इससे चंद्र देव की कृपा से मानसिक शांति और सुख प्राप्त होगा।

deepak deewan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned