मंत्री गर्ग बोले- अपराधियों से मिली हुई है पुलिस

भरतपुर मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा विभाग की बैठक में बोले मंत्री

By: Vijayendra

Published: 23 Aug 2020, 12:17 AM IST

आरोप : गांवों में कुछ लोग बने हुए हैं एजेंट
भरतपुर . शहर में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं को लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा कि स्थानीय पुलिस अपराधियों से मिली हुई है। इससे पहले बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने तत्कालीन डीआइजी पर आरोप लगाया था। धौलपुर शहर के पूर्व पुलिस उपाधीक्षक ने तत्कालीन एसपी पर आरोप लगाया था।
सुभाष गर्ग ने कहा कि भरतपुर, धौलपुर एवं करौली का क्राइम कुछ अलग तरह का है। यहां की तुलना सीकर, चूरू एवं झुंझुनूं से नहीं की जा सकती। तत्कालीन एसपी विकास कुमार व राहुल प्रकाश के नाम आज भी याद किए जाते हैं। यहां कुछ स्वतंत्र तरीके का क्राइम होता है। भरतपुर में एकदम चोरी की वारदात बढ़ रही हैं। शहर में दुकानों व कॉलोनियों में ताले टूटने की वारदात हो रही हैं। उन्होंने एसपी डॉ. अमनदीप कपूर से कहा कि आप एक बार देख लें। अगले दो महीने में आप भी सब कुछ जान जाएंगे। स्थानीय पुलिस मिली हुई है और गांवों में कुछ लोग उनके एजेंट बने हुए हैं। डॉ. गर्ग ने एसपी को निर्देश दिए कि सीमावर्ती क्षेत्रों में एंट्री पॉइंट पर नाइटविजन सीसीटीवी लगवा कर कड़ी निगरानी सुनिश्चित की जाए।

पहले भी लगे आरोप
-हाल में ही कुछ माह पहले धौलपुर जिले के गिर्राज सिंह मलिंगा ने तत्कालीन डीआइजी लक्ष्मण गौड़ पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने बजरी खनन से जुड़े मामले में लेनदेन समेत काफी आरोप लगाए थे। इसके बाद डीआइजी के कथित दलाल को पकड़ा गया था। इससे पहले भरतपुर में भी राजनेताओं का दखल पुलिस में होने की बात सामने आती रही है। चूंकि पूर्व में भी एक बार उद्योगनगर थाना क्षेत्र में एक चौकी को लेकर काफी विवाद हुआ था।
-करीब 1 वर्ष पहले पूर्व पुलिस उपाधीक्षक दिनेश शर्मा ने तत्कालीन एसपी अजय सिंह पर चंबल बजरी परिवहन में संलिप्तता का आरोप लगाया था।

Vijayendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned