अब मंत्री ने दी सफाई, बोले राजनीतिक साजिश के तहत किया अधूरा वीडियो वायरल

अब मंत्री ने दी सफाई, बोले राजनीतिक साजिश के तहत किया अधूरा वीडियो वायरल
अब मंत्री ने दी सफाई, बोले राजनीतिक साजिश के तहत किया अधूरा वीडियो वायरल

Ankit Dhaka | Updated: 12 Oct 2019, 04:54:09 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

मंत्री भंवरलाल मेघवाल के वायरल वीडियो से गर्माई राजनीति


जयपुर. विधानसभा उप चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस के नेता और मंत्रियों की गुटबाजी फिर सामने आने लगी है। सामाजिक न्याय आधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल के विवादित बयान के बाद शुक्रवार को सिसायत और गर्मा गई। इसकी वजह यह भी है कि पिछली अशोक गहलोत सरकार में भी एक विवादित बयान के बाद उन्हें मंत्री पद गंवाना पड़ा था। मंत्री मेघवाल ने बुधवार को सुजानगढ़ में एक कार्यक्रम में कहा कि वे अपने कार्यक्रम को नहीं बदलते। मंडावा उप चुनाव में काम करने को लेकर मुख्यमंत्री ने दो बार फोन किए। लेकिन उन्होंने 11 तक कार्यक्रम में व्यस्त रहने के चलते, इसके बाद ही चुनाव कार्य में लगने के लिए कह दिया। वे यहीं नहीं रूके और कह दिया था कि अनुसूचित जाति के वोट भंवरलाल ही दिला सकता है। मुख्यमंत्री को कह दिया है कि आप कहेंगे तो मैं चुनाव जिता भी सकता हूं और हरा भी सकता हूं। मीडिया में यह बयान आने के बाद अब मेघवाल ने सफाई दी है। उन्होंने शाम को बयान जारी करके कहा कि मीडिया में जो क्लिपिंग चल रही है, यह उनके विरोधियों की चाल हैं। इसकी वजह उप चुनाव हैं। वे अनुसूचित जाति वर्ग के वोट हथियाना चाहते हैं और उनकी छवि को साजिश रचकर धूमिल किया जा रहा है। जो बोला गया था वह संपूर्ण जानकारी के बिना भ्रामक रूप से दुर्भावनावश चलाया जा रहा है। जबकि इस तरह का कोई मामला ही नहीं है। मैंने कार्यक्रम में बोला था कि 13 को मण्डावा उप चुनाव का कार्य देखने जाऊंगा। उससे पहले 11 तक पंचायतों के पुनर्गठन की महत्वपूर्ण बैठक है। इस कार्य को 12 तक पूरा करना है। मेघवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जो काम सौंपे हैं वो उनके लिए सर्वोपरि हैं। रही बात जिताने और हराने की तो उनका मतलब था कि मुख्यमंत्री के आदेश से कांग्रेस को जितवा देंगे तथा भाजपा को हरवा देंगे। जबकि वीडियो वायरल करने वाले व्यक्ति को आगे कहे इन बोल का भी भाषण वायरल करना चाहिए था। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में सरकार ने एक वर्ष से भी कम के कार्यकाल में नए आयाम स्थापित किए हैं। हम सभी आमजन के लिए पूरी तरह सर्मिपत हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned