scriptMinistry of Civil Aviation released National Air Sports Policy | नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने जारी की राष्ट्रीय वायु खेल नीति | Patrika News

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने जारी की राष्ट्रीय वायु खेल नीति

एयर स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने हाल ही में भारत की पहली राष्ट्रीय वायु खेल नीति को लॉन्च किया है। इस नवाचार के जरिए देश के युवाओं को स्काइडाइविंग या पैराग्लाइडिंग जैसे साहसिक खेलों में अपना नाम बनाने का अवसर तो मिलेगा ही, साथ ही हवाई खेल उपकरणों के विकास-विनिर्माण और एयर स्पोर्ट्स में भारत को आत्मनिर्भर बनाने में भी मदद मिल सकेगी।

जयपुर

Published: June 13, 2022 07:12:20 pm

एयर स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने हाल ही में भारत की पहली राष्ट्रीय वायु खेल नीति को लॉन्च किया है। इस नवाचार के जरिए देश के युवाओं को स्काइडाइविंग या पैराग्लाइडिंग जैसे साहसिक खेलों में अपना नाम बनाने का अवसर तो मिलेगा ही, साथ ही हवाई खेल उपकरणों के विकास-विनिर्माण और एयर स्पोर्ट्स में भारत को आत्मनिर्भर बनाने में भी मदद मिल सकेगी।
1214.jpg
क्योंकि : जानना जरूरी है...

  • 2030 तक भारत को एयर स्पोर्ट्स के क्षेत्र में शीर्ष देश बनाने का लक्ष्य। 2023 यानी अगले वर्ष वैश्विक हवाई खेलों की मेजबानी को भी तत्पर।
  • 10,000 करोड़ का हो जाएगा आने वाले वर्षों में इस क्षेत्र का राजस्व और एक लाख नौकरियों के सृजन में मदद भी मिलेगी।
कौन से खेल शामिल हैं एयर स्पोर्ट्स में
राष्ट्रीय वायु खेल नीति यानी नेशनल एयर स्पोर्ट्स पॉलिसी (एनएएसपी) में 11 तरह की हवाई खेल गतिविधियों जैसे एरोबेटिक्स, एरोमॉडलिंग और रॉकेट्री, बैलूनिंग, ड्रोन, ग्लाइडिंग, हैंग ग्लाइडिंग, पैराग्लाइडिंग, माइक्रोलाइटिंग, पैरामोटरिंग, स्काइडाइविंग और विंटेज एयरक्राफ्ट को शामिल किया गया है। इसमें देश में अलग-अलग जगह हवाई क्लस्टर समेत पूरा इकोसिस्टम बनाने का प्रावधान है। अभी देश में करीब पांच हजार लोग हवाई खेलों से जुड़े हैं और करीब 80 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित होता है।
वायु खेल नीति का क्या है उद्देश्य
एनएएसपी का उद्देश्य एक ऐसी संरचना विकसित करना है ताकि एयर स्पोर्ट्स के क्षेत्र में भारत दुनिया का अग्रणी राष्ट्र बने। इसमें हवाई खेल क्षेत्र को सुरक्षित, किफायती, सुलभ, आनंददायक और टिकाऊ बनाते हुए एयर स्पोर्ट्स के प्रति खिलाड़ियों की अधिक भागीदारी और उनके उत्साह को आकर्षित करना है। सुरक्षा मानकों का उल्लंघन करने पर इसमें दंडात्मक कार्रवाई का भी प्रावधान है। नीति का पहला मसौदा इसी वर्ष 1 जनवरी को जारी किया गया था। मसौदा जारी करने वाली समिति में सशस्त्र बलों के अधिकारी, राष्ट्रीय कैडेट कोर के सदस्य और विशेषज्ञ शामिल थे।
इस नीति से देश को क्या होगा लाभ
केन्द्र सरकार का मानना है कि युवा आबादी भारत का जनसांख्यिकीय लाभांश है। देश की अनुकूल जलवायु व पारिस्थितिकी तंत्र के चलते विश्व में भारत हवाई खेलों के लिहाज से मजबूत स्थिति हासिल कर सकता है। देश भर में ‘एयर स्पोर्ट्स हब’ के निर्माण से, पूरे विश्व से ‘एयर स्पोर्ट्स पेशेवर’ और पर्यटक भारत आएंगे। इससे विमानन गतिविधियों में रुचि बढ़ेगी और पर्यटन के साथ स्थानीय रोजगार में वृद्धि होगी।
newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नुपूर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, कहा- आपके बयान के चलते हुई उदयपुर जैसी घटना, पूरे देश से टीवी पर मांगे माफीउदयपुर घटना की जिम्मेदार, टीवी पर माफी, सस्ता प्रचार...10 बिंदुओं में जानें Nupur Sharma को Supreme Court ने क्या-क्या कहा?Maharashtra Politics: शिंदे गुट को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, शिवसेना की अर्जी पर फ्लोर टेस्ट पर रोक लगाने से किया इनकारMumbai Rains: मुंबई में भारी बारिश के चलते जनजीवन पर असर, कई इलाकों में भरा पानी; IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्टहैदराबाद में आज से शुरू हो रही BJP की कार्यकारिणी बैठक, प्रधानमंत्री मोदी कल होगें शामिल, जानिए क्या है बैठक का मुख्य एजेंडाआज से प्रॉपर्टी टैक्स, होम लोन सहित कई अन्य नियमों में हुए बदलाव, जानिए आपके जेब में क्या पड़ेगा असरकेंद्रीय मंत्री आर के सिंह का बड़ा बयान, सिर काटने वाले आतंकियों के खिलाफ बनेगा UAPA की तरह सख्त कानून!LPG Price 1 July: एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता, आज से 198 रुपए कम हो गए दाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.