फसलों की तबाही देखने खेतों में पहुंचे मंत्री

तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री तथा चूरू जिले के प्रभारी मंत्री डॉ सुभाष गर्ग सोमवार को जिले के ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों में किसानों का दुःख-दर्द जानने पहुंचे तथा पीड़ित किसानों से मिलकर उन्हें भरोसा दिलाया कि संकट की इस घड़ी में सरकार किसानों के साथ है।

By: PUNEET SHARMA

Published: 10 Mar 2020, 09:38 AM IST

फसलों की तबाही देखने खेतों में पहुंचे मंत्री
जयपुर।
तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री तथा चूरू जिले के प्रभारी मंत्री डॉ सुभाष गर्ग सोमवार को जिले के ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों में किसानों का दुःख-दर्द जानने पहुंचे तथा पीड़ित किसानों से मिलकर उन्हें भरोसा दिलाया कि संकट की इस घड़ी में सरकार किसानों के साथ है।
डॉ. गर्ग ने दाऊदसर गौरीसर, अजीतसर, धीरासर, सारसर, उदासर सहित विभिन्न गांवों का दौरा कर किसानों का दुःख-दर्द जाना। उन्होंने रतनगढ़, दाऊदसर आदि गांवों में खेतों में जाकर फसलों का जायजा लिया तथा किसानों ने मिलकर उनकी पीड़ा जानी। डॉ. गर्ग ने दाऊदसर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर राजीव गांधी सेवा केंद्र में लोगों की समस्याएं सुनी और समस्याओं के निस्तारण के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।
गांवों में भ्रमण के बाद जिला परिषद सभागार में जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के साथ बैठक में डॉ. गर्ग ने कहा कि मुख्यमंत्री ने संवेदनशीलता बरतते हुए तत्काल विशेष गिरदावरी के निर्देश दिए हैं। सरकार की मंशा के अनुसार उदार एवं मानवीय दृष्टिकोण रखते हुए सर्वे कार्य किया जाना है, ताकि अधिक से अधिक पीड़ित किसानों को राहत मिल सके। उन्होंने बताया कि बीमा कंपनियों को सर्वे के निर्देश दिए गए हैं। जो किसान फसल बीमा में कवर नहीं हो रहे हैं, ऎसे किसानों को राज्य आपदा राहत कोष से मुआवजा दिलाया जाएगा। इसके साथ बंटाई पर लेकर खेती करने वाले किसानों को भी पांच रुपए का शपथ पत्र देकर ओलावृष्टि से हुए नुकसान का फायदा मिल सकेगा।
उन्होंने कहा कि बीमा क्लेम से संबंधित शिकायत ऑनलाइन दर्ज नहीं होने की स्थिति में ऑफलाइन शिकायत भेजने की व्यवस्था की गई है। उन्होने बताया कि किसानों के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री द्वारा 1000 करोड रुपए के किसान कल्याण कोष की स्थापना की गई है। सरकार की कोशिश है कि मुआवजे और बीमा क्लेम का पैसा जल्दी से जल्दी प्रभावित किसानों के खाते में आ जाए।
प्रभारी मंत्री ने सरदारशहर क्षेत्र के उदासर, अजीतसर, सारसर आदि गांवों में जनसुनवाई की तथा किसानों की पीड़ा जानी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा है कि एक भी पीड़ित किसान सहायता से वंचित नहीं रहे। इसके लिए जिला कलक्टर एवं अन्य अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। विधायक भंवर लाल शर्मा ने सरकार की संवेदनशीलता की सराहना करते हुए कहा कि ओलावृष्टि के बाद तत्काल विशेष गिरदावरी के निर्देश सरकार ने दिए, यह सरकार की संवेदनशीलता को दिखाता है।
प्रभारी मंत्री के पूरे दौरे में जिला कलक्टर संदेश नायक एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

PUNEET SHARMA Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned