scriptMinority leaders claim on the posts of Congress District Presidents | संगठन विस्तार की कवायदः आधा दर्जन से ज्यादा कांग्रेस जिलाध्यक्षों के पदों पर अल्पसंख्यक नेताओं का दावा | Patrika News

संगठन विस्तार की कवायदः आधा दर्जन से ज्यादा कांग्रेस जिलाध्यक्षों के पदों पर अल्पसंख्यक नेताओं का दावा

-पीसीसी चीफ डोटासरा, प्रभारी अजय माकन और मुख्यमंत्री गहलोत के समक्ष भी उठ चुकी है मांग, जयपुर शहर, जोधपुर, नागौर, चूरू, धौलपुर, सीकर, सवाई माधोपुर, जैसलमेर और टोंक अल्पसंख्यक वर्ग का दावा

जयपुर

Updated: July 18, 2021 10:03:53 pm

फिरोज सैफी/जयपुर।

प्रदेश कांग्रेस में संगठन विस्तार की शुरू की कवायद के बीच कांग्रेस से जुड़े अल्पसंख्यक नेताओं ने भी आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में जिलाध्यक्ष बनने के लिए दावेदारी पेश की है। कांग्रेस से जुड़े अल्पसंख्यक नेताओं ने आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में जिलाध्यक्ष बनाने के लिए पीसीसी गोविंद सिंह डोटासरा, प्रदेश प्रभारी अजय माकन और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक भी अपनी बात पहुंचाई है।

pcc jaipur
pcc jaipur

जिन जिलों में जिलाध्यक्षों के लिए अल्पसंख्यक नेताओं की ओर से दावेदारी की जा रही है उनमें जयपुर शहर, जोधपुर, नागौर, चूरू, धौलपुर, सवाई माधोपुर, जैसलमेर और टोंक जिले शामिल हैं। आधा दर्जन से अधिक जिलों में अल्पसंख्यक वर्ग के दावे के चलते पार्टी नेतृत्व भी कई जिलों में अल्पसंख्यक नेताओं के नामों पर मंथन में जुटा है।

अल्पसंख्यक नेता लगातार कर रहे हैं लॉबिंग
सूत्रों की माने तो आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में जिलाध्यक्ष बनाए जाने की मांग को लेकर कांग्रेस से जुड़े हुए नेता लगातार जयपुर से दिल्ली तक लॉबिंग कर रहे हैं। अल्पसंख्यक नेताओं का कहना है कि मंत्रिमंडल और अभी तक जितनी भी राजनीतिक नियुक्तियां हुई है हुई है उनमें अल्पसंख्यक वर्ग की अनदेखी कोई है जिससे अल्पसंख्यक वर्ग में खासी नाराजगी बढ़ी है।

ऐसे में अल्पसंख्यक वर्ग नाराजगी दूर करने के लिए उन्हें संगठन में अहमियत दी जाए। हालांकि आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में भले ही अल्पसंख्यक नेताओं का दावा हो लेकिन अल्पसंख्यक नेताओं को कहां एडजस्ट किया जाना है यह सब कांग्रेस आलाकमान पर ही निर्भर करेगा।

निकाय चुनाव में भी सामने आई थी नाराजगी
इससे पहले बीते साल नवंबर माह में 6 नगर निगमों के हुए चुनाव के अंदर दौरान भी जोधपुर उत्तर और जयपुर हेरिटेज में अल्पसंख्यक वर्ग से महापौर नहीं बनाए जाने के बाद कांग्रेस से जुड़े अल्पसंख्यक नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था और प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के बाहर धरने प्रदर्शन भी किए थे, जिसके बाद से ही कांग्रेस में अल्पसंख्यक नेताओं की नाराजगी दूर करने और उन्हें संगठन में अहमियत देने का आश्वासन पार्टी नेताओं की ओर से दिया गया था।

जयपुर पर खास फोकस
पार्टी के विश्वस्तों की माने तो अल्पसंख्यक वर्ग का जयपुर जिलाध्यक्ष पर खास फोकस है, राजधानी होने के चलते एक विधायक सहित कांग्रेस से जुड़े कई अल्पसंख्यक नेता जिलाध्यक्ष के लिए लॉबिंग कर रहे हैं। हालांकि जयपुर शहर में अल्पसंख्यक वर्ग से शाह इकरामुद्दीन और सलीम कागजी अध्यक्ष रह चुके हैं।

निवर्तमान कार्यकारिणी में तीन जिलों में थे अल्पसंख्यक अध्यक्ष
वहीं पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट के कार्यकाल के दौरान नागौर, जोधपुर और जैसलमेर में केवल की तीन ही अल्पसंख्यक नेताओं को जिलाध्यक्ष बनाया गया था, इससे पूर्व डॉ. सीपी जोशी, डॉ. चंद्रभान और बीडी कल्ला के कार्यकाल में आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में अल्पसंख्यक नेताओं को जिलाध्यक्ष बनाया गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.