लीपापोती से हारे, काम आधे-अधूरे, खंभों के वजन भी नहीं पूरे

सोलर लाइट लगाने में गड़बड़ियां पकड़ीं

महापौर ने किया हिंगोनिया गौशाला का निरीक्षण

By: Amit Pareek

Published: 11 Apr 2021, 01:05 AM IST

जयपुर. हिंगोनिया गौशाला में सोलर लाइट लगाने में ढेरों खामियां उजागर हुईं हैं। खास बात यह है कि सोलर लाइट के ये खंभे तयशुदा मापदंडों से अलग हिलते हुए मिले। बिना फाउंडेशन तैयार किए ही इन खंभों को केवल डेढ़ फीट गहराई में गाड़ दिया गया। साथ ही खंभों का वजन भी टेंडर शर्तों के विपरीत१० किलो कम निकला। हिंगोनिया गौशाला का निरीक्षण करने पहुंचीं ग्रेटर नगर निगम की महापौर सौम्या गुर्जर ने इन गड़बडिय़ों को पकड़ा। उधर, अचानक महापौर के गौशाला में पहुंचने पर कर्मचारी हरकत में आ गए।
महापौर के अनुसार जो सोलर लाइट्स गौशाला में लगाई गर्इं हैं वह 15 हजार से 18 हजार के बीच बाजार में उपलब्ध हैं। जबकि निगम की ओर से हरेक लाइट के लिए 36 हजार 300 की दर से संबंधित फर्म को भुगतान किया गया है। उन्होंने
इस बारे में कार्य की गुणवत्ता, दरों की थर्ड पार्टी जांच कराने एवं इसमें अनियमितता मिलने पर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लेने के निर्देश दिए हैं।

आईसीयू में गायों का जाना हाल

महापौर ने निरीक्षण के दौरान गौशाला के आईसीयू में भर्ती गायों के स्वास्थ्य एवं उनकी स्थिति की पशु चिकित्सकों से जानकारी ली। गायों को उपलब्ध कराई जा रही सेवाओं का निरीक्षण किया गया। आज गौशाला में लाई गई बेसहारा गायों का भी रेकॉर्ड बिल्टी से मिलान किया गया।

ये रहे मौजूद

उपायुक्त गौशाला आभा बेनीवाल, पशु प्रबंधन एवं संरक्षण समिति के चेयरमैन अरुण वर्मा, समिति सदस्य पार्षद छोटू राम मीणा व अन्य सदस्य मौजूद रहे।

Amit Pareek
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned