विधायक गुढा बोले,मुर्गे ने जान दे दी,खाने वालों ने कहा,हमें तो मजा नहीं आया

राजस्थान में कांग्रेस की सियासत में घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है।

By: rahul

Published: 15 Jun 2021, 06:15 PM IST

जयपुर।राजस्थान में कांग्रेस की सियासत में घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। बसपा से से कांग्रेस में आए विधायकों ने मंगलवार को बैठक की और अपनी रणनीति बनाई। विधायकों ने सचिन पायलट गुट पर निशाने भी साधे। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में विधायक राजेंद्र गुढ़ा सहित अन्य विधायकों ने कहा कि हम बसपा से कांग्रेस में इसलिए आए थे कि कि कांग्रेस मजबूत बन सके रहे। वैसे हमारे साथ न्याय तो नहीं हो रहा लेकिन सीएम अशोक गहलोत ने हमारे क्षेत्र में खूब काम कराए है, लेकिन गुढा ने एक मुहावरे का उदाहरण देते हुए कहा कि मुर्गे ने जान दे दी लेकिन खाने वालों ने कहा कि हमें तो मजा नहीं आया। विधायक गुढ़ा यहीं नहीं रूके, उन्होंने ये भी कहा कि वफादार और गैर वफादार में फर्क तो होना चाहिए। गुढा ने कहा कि कांग्रेस सरकार को हमने बचाया, निर्दलीय का भी हमसे कंपेरिजन नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि जो लोग बगावत करते हैं उनका पलक पांवड़े बिछाकर घर वापसी में स्वागत हो यह ठीक नहीं है, अशोक गहलोत हमारे नेता थे और भविष्य में भी रहेंगे।

विधायक जोगिंदर अवाना ने कहा कि आज असली और नकली के पहचान की जरूरत है।जो लोग कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीते उनके विचार सब सुन रहे हैं। हमने त्याग किया है और हमें दूसरी निगाह से नहीं देखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत हमारे नेता हैं और रहेंगे। हम बिना शर्त कांग्रेस में आए थे और किसी तरह का कोई दबाव हम नहीं बना रहे हैं। हमारे क्षेत्र में खूब काम हुए है। सीएम गहलोत के प्रति सबका विश्वास है। यहीं नहीं मेरी मंत्री बनने की कोई मांग नहीं है।

विधायक संदीप यादव ने कहा कि जिन नेताओं ने बगावत की वो बार-बार दबाव बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुछ नेताओं ने पार्टी के साथ गद्दारी कर सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की उनकी वजह से तो अब तक सरकार गिर चुकी होती। सरकार हमारी वजह से बची है। निर्दलीय और हम लोगों ने मिलकर सरकार बचाई है। ऐसे में हाईकमान को उनकी बात नहीं सुननी चाहिए। जिन लोगों ने सरकार बचाई उनको ईनाम मिलना चाहिए।

विधायक लाखन मीणा ने फोन टेप के आरोपों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में हमारे नोटिस चल रहे हैं। दो विधायकों के बैठक में नहीं आने के बारे में पूछे जाने पर कहा कि वाजिब अली विदेश में हैं और दीपचंद का स्वास्थ्य नासाज है।

Congress
rahul Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned