राजस्थान की अब तक की सबसे बड़ी रैली की तैयारी में हनुमान बेनीवाल! जानें 'शक्ति प्रदर्शन' से जुडी हर बात

राजस्थान की अब तक की सबसे बड़ी रैली की तैयारी में हनुमान बेनीवाल! जानें 'शक्ति प्रदर्शन' से जुडी हर बात

nakul devarshi | Publish: Mar, 14 2018 12:04:05 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

बेनीवाल का 'शक्ति प्रदर्शन'! खींवसर से विधायक हनुमान बेनीवाल ने जयपुर की रैली में 15 लाख किसानों और लोगों को एकजुट करने का दावा किया है।

जयपुर।

राजपा से भाजपा का दामन थामने वाले डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा का साथ छूटने के बाद भी खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल का बीजेपी सरकार विरोधी हल्लाबोल जारी है। इन दिनों वे एक बार फिर शक्ति प्रदर्शन करने की कवायद में जुटे हुए हैं। बेनीवाल इस बार सीकर में किसान हुंकार रैली के आयोजन को लेकर जनसम्पर्क में जुटे हुए हैं। सीकर के बाद बेनीवाल ने राजधानी जयपुर में भी किसान हुंकार रैली बुलाने का मन बनाया है।

 

जयपुर में होगी सबसे बड़ी रैली!
विधानसभा चुनाव से ठीक पहले विधायक बेनीवाल बेनीवाल जयपुर में एक बड़ी किसान हुंकार रैली बुला सकते हैं। इस बात का ज़िक्र वे पहले भी कर चुके हैं। जयपुर में होने वाली रैली की औपचारिक तारीख की घोषणा होनी है लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि ये रैली राजस्थान में अब तक की सबसे बड़ी रैली रहेगी। बेनीवाल ने जयपुर की रैली में 15 लाख किसानों और लोगों को जुटाने का दावा भी किया है।

 

सूत्रों की माने तो बेनीवाल ने जयपुर की रैली में लाखों लोगों की भीड़ जुटाने का लक्ष्य रखा है। बताया जा रहा है कि जयपुर की इसी महारैली के मंच से प्रदेश में तीसरे मोर्चे की घोषणा भी की जायेगी।

 

गौरतलब है कि इससे पहले भी बेनीवाल की अगुवाई में नागौर, बाड़मेर और बीकानेर में किसान हुंकार रैली हो चुकी है जिसमें हज़ारों की तादाद में लोगों को एकजुट करके बेनीवाल ने अपने शक्ति का प्रदर्शन किया था। किसान हुंकार रैली की शुरुआत बेनीवाल ने नागौर से 7 दिसंबर 2016 को की थी।

 

सीकर रैली की तारीख की घोषणा जल्द
सीकर में आयोजित होने वाली किसान हुंकार रैली की तारीख फिलहाल तय नहीं हुई है। बेनीवाल ने कहा है कि जल्द ही रैली के आयोजन की तारीख घोषित की जायेगी। फिलहाल वे विभिन्न ज़िलों में जनसम्पर्क के ज़रिये ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचने पर फोकस कर रहे हैं।

hanuman beniwaal

किरोड़ी मीणा का फैसला उनका व्यक्तिगत
हनुमान बेनीवाल फिलहाल इस बात की भी सफाई देते जा रहे है कि डॉक्टर किरोड़ी मीणा का भाजपा का दामन थामना उनका अपना व्यक्तिगत फैसला था। उनके फैसले में उन्होंने कोई हस्तक्षेप नहीं किया या कोई बातचीत की। इस तरह की जो भी खबरें चल रहीं हैं वो भ्रामक हैं।

 

'नहीं होंगें भाजपा में शामिल'
डॉ मीणा की भाजपा में वापसी के बाद प्रदेश की राजनीति में हनुमान बेनीवाल के भी भाजपा में जाने को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म हो गया था। हालांकि बेनीवाल ने भाजपा में शामिल होने की खबरों का खंडन किया है।

 

चर्चा में थी किरोड़ी-बेनीवाल दोस्ती
डॉ किरोड़ी के भाजपा में जाने से पहले बेनीवाल और किरोड़ी के बीच घनिष्ठता राजनितिक गलियारों में खासा चर्चा में रही थी। बेनीवाल के किसान आंदोलनों में किरोड़ी भी शामिल हुआ करते थे। ऐसे में कयास लगाए जा रहे थे कि किरोड़ी के जरिए बेनीवाल की भी भाजपा में एंट्री हो सकती है। हालांकि उन्होंने इन खबरों को खंडन करते हुए बीजेपी में शामिल होने से साफ इनकार कर दिया।

 

kirori beniwal

'भाजपा में जाने का सवाल ही नहीं'
खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने प्रदेश के मीडिया व टीवी चैनल में उनके भाजपा में जाने की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि, मीडिया में चल रही खबरें बिल्कुल निराधार है। बेनीवाल ने कहा कि एक दो दिन में सीकर में हुंकार रैली की तिथि तय करेंगे और उसके बाद जयपुर में आयोजित रैली में नई पार्टी की घोषणा करेंगे। वे अपने मिशन-2018 पर कायम है। व्यवस्था परिवर्तन के खिलाफ उनका जन आंदोलन जारी रहेगा।

 

दोनों के रास्ते हुए अब अलग-अलग
नागौर, बाड़मेर व बीकानेर की किसान हुंकार महारैलियों में एक मंच से तीसरे मोर्चे की बात करने वाले विधायक हनुमान बेनीवाल व विधायक किरोड़ीलाल मीणा के रास्ते अब अलग-अलग हो गए हैं। विधायक मीणा ने भाजपा का दामन थाम लिया। इससे राजनीतिक गलियारों में विधायक बेनीवाल के भी वापस भाजपा में जाने की अटकलें लगाई जाने लगीं, जिसको लेकर बेनीवाल ने साफ इनकार करते हुए कहा कि प्रदेश के किसान और जवान ने उनको जबरदस्त आशीर्वाद दिया है, इसलिए वे उनके विश्वास को नहीं तोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा तो क्या वे कांग्रेस में भी नहीं जाएंगे। इसके बाद 15 लाख लोगों की भीड़ जुटाकर जयपुर में बड़ी महारैली करेंगे और उसी रैली के मंच से प्रदेश में तीसरे मोर्चे की घोषणा भी करेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned