विधायक कन्हैयालाल सहित तीन अन्य बने रहे डिग्गी कल्याण मंदिर ट्रस्ट के सदस्य

न्यायालय ने डिग्गी कल्याण जी मंदिर ट्रस्ट में सदस्य बनाए रखते हुए काम करते रहने का अंतरिम आदेश दिया

By: Ankit

Published: 23 May 2020, 06:35 PM IST

जयपुर।

मालपुरा एमएलए कन्हैया लाल चौधरी सहित तीन अन्य सदस्यों को राजस्थान उच्च न्यायालय से राहत मिल गई है। न्यायालय ने उन्हें डिग्गी कल्याण जी मंदिर ट्रस्ट में सदस्य बनाए रखते हुए काम करते रहने का अंतरिम आदेश दिया है। इसी के साथ न्यायालय ने देवस्थान विभाग के सचिव ,संयुक्त सचिव तथा मालपुरा के उपखण्ड अधिकारी और ट्रस्ट के पदेन अध्यक्ष से चार सप्ताह में जवाब देने के लिए कहा है।
कन्हैयालाल चौधरी, अरविंद गौतम व अन्य ने राजस्थान उच्च न्यायालय में याचिका दायर की। याचिकाकर्ताओं के अधिवक्ता लक्ष्मीकांत शर्मा ने कहा कि पिछली राज्य सरकार ने एमएलए सहित तीन अन्य सदस्यों काे 16 मई 2018 को डिग्गी कल्याण जी मंदिर ट्रस्ट में सदस्य पद पर मनोनीत किया था। लेकिन मौजूदा राज्य सरकार ने 30 अप्रेल 2020 के आदेश से तीन दूसरे लोगों को ट्रस्टी सदस्य बना दिया है। जिस आदेश से ट्रस्ट में मनोनयन किया था उसे राज्य सरकार वापस नहीं लिया है उसे निलंबित नहीं किया है। केवल राजनीति कारणों के चलते नए सदस्य बना दिए हैं नए सदस्यों का मनोनयन 25 मई 1975 के ट्रस्ट पंजीयन के अनुसार करने का आदेश जारी किया है जबकि इस तारीख को कोई ट्रस्ट बना ही नहीं था ना इसका अस्तिव था। जिस पर न्यायालय ने अंतरिम तौर पर पुराने सदस्यों को काम करते रहने का आदेश देते हुए जवाब तलब किया है।

Ankit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned