जब करें फोन को सेनेटाइज

आपका मोबाइल एक तीसरे हाथ के जैसा ही है जिसका साफ होना जरूरी है। लोग अपने फोन को खाने के दौरान, ट्रेन में और बाथरूम में साथ ले जाते हैं। 2017 के अध्ययन के अनुसार, सेलफोन संक्रामक एजेंटों के प्रसार में भूमिका निभा सकता है।

Kiran Kaur

26 Mar 2020, 06:12 PM IST

कोरोना वायरस से बचने के लिए आपसे लगातार हाथ धोने के लिए कहा जा रहा है लेकिन आपके हाथों में हर समय रहने वाली एक चीज और भी है और वह है आपका फोन जिस सेनेटाइज करने की उतनी ही आवश्यकता है जितनी कि आपके हाथों को। मोबाइल फोन को सेनेटाइज करते समय आपको किन बातों का खयाल रखना चाहिए जानते हैं इसके बारे में। जब बात फोन को सेनेटाइज करने की आती है तो लोग डिसइन्फेक्टेंट वाइप्स का प्रयोग करते हैं। हाल में एप्पल कंपनी ने भी अपने मोबाइल फोन यूजर्स को इनके प्रयोग करने के लिए ओके कर दिया है। फोन की स्क्रीन को किसी भी प्रकार के नुकसान से बचाने के लिए इन वाइप्स का प्रयोग करना सबसे सही है क्योंकि इनमें 70 फीसदी आइसोप्रोपिल अल्कोहल होता है। फोन को पोंछते समय, हल्के हाथों का प्रयोग करें, बहुत अधिक दबाव न डालें। अतिरिक्त सुरक्षा के लिए, डिस्पोजेबल दस्ताने पहनें ताकि आपके हाथों पर कोई रोगाणु न फैलें। फोन के साथ-साथ इसके केस को भी अच्छी तरह से क्लीन करें। एक बार जब फोन साफ हो जाये तो दस्तानों को भी सही तरीके से डिस्पोज कर दें और हाथों को भी अच्छी तरह से साफ करें। फोन को साफ करते समय अगर आपके पास डिसइन्फेक्टेंट वाइप्स नहीं है तो कोई भी घरेलू उपाय न करें यह मोबाइल स्क्रीन को नुकसान पहुंचने का काम करेगा। जब आप अपने फोन को क्लीन कर लें तो इस बात का खास ध्यान रखें की बार-बार बच्चे भी आपके फोन को न लें। फोन का प्रयोग एहतियात के तौर पर कम से कम ही करें। एक्सपर्ट के अनुसार हर व्यक्ति को दिन में एक बार अपना मोबाइल साफ जरूर करना चाहिए। एक्सपर्ट का कहना है कि आपका मोबाइल एक तीसरे हाथ के जैसा ही है जिसका साफ होना जरूरी है। लोग अपने फोन को खाने के दौरान, ट्रेन में और बाथरूम में साथ ले जाते हैं। 2017 के अध्ययन के अनुसार, सेलफोन संक्रामक एजेंटों के प्रसार में भूमिका निभा सकता है।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned