छह साल में Petrol पर 23 और डीजल पर 28 रुपए उत्पाद शुल्क बढ़ाया मोदी सरकार ने : कांग्रेस

पेट्रोल— डीजल के भावों (Petrol Price )को लेकर कांग्रेस लगातार मोदी सरकार( Modi government ) पर हमले कर रही है।

By: rahul

Published: 30 Jun 2020, 04:02 PM IST

जयपुर। पेट्रोल— डीजल के भावों (Petrol Price )को लेकर कांग्रेस लगातार मोदी सरकार( Modi government )पर हमले कर रही है। इस बीच पार्टी के सीए प्रकोष्ठ ने आरोप लगाया हैं कि छह साल में मोदी सरकार ने डीजल पर 28 रुपए और पेट्रोल पर 23 रुपए से ज्यादा उत्पाद शुल्क बढ़ा दिया है और वो भी तब जबकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में 2014 से 2019 के बीच लगभग $64 से ज्यादा प्रति बैरल में कमी आई है।

राजस्थान कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सीए विजय गर्ग ने केंद्र सरकार पर जनता की मजबूरी का फायदा उठाने का आरोप लगाया है। उन्होंने एक बयान में कहा कि पिछले कुछ दिनों से लगातार पेट्रोल - डीजल के भाव जिस तरीके से बढ़ रहे हैं उसे देखकर लगता है कि केंद्र सरकार, सरकारी उपक्रमों के माध्यम से मुनाफाखोरी की तरफ बढ़ रही है और लगभग 3 महीने के लॉक डाउन के बाद देश की जनता वापस अपने काम धंधे पर लौटने लगी है ऐसे में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में कमी आना एवं देश में पेट्रोल डीजल के भाव में लगातार वृद्धि होना यह दर्शाता है कि केंद्र सरकार देश की जनता की मजबूरी का फायदा उठाना चाहती है ।

गर्ग ने बताया कि कोरोना के चलते लगभग 65 दिन से अधिक का लॉक डाउन रहा और इसके लॉक डाउन के बाद वापस देश की जनता अपनी दैनिक क्रियाओं में एवं गतिविधियों में लग गई है। इसके चलते हुए पेट्रोल डीजल की बिक्री पुनः रफ्तार पकड़ने लगी और इसको देख कर केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल पर लगातार मूल्य में वृद्धि कर देश की मजबूर जनता का फायदा उठा रही है । इसी के साथ भाजपा की जो आर्थिक नीतियां रही है उन नीतियों के चलते देश में महंगाई उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है।

गर्ग ने केंद्र सरकार पर यह भी आरोप लगाया कि पिछले लगभग 15 दिनों से लगातार पेट्रोल डीजल पर भाव बढ़ रहे हैं ऐसा देश में पहली बार हुआ है, लगातार देश में पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ कर ऐतिहासिक स्तर पर पहुंच गए है।

गर्ग ने बताया कि वर्ष 2014 में जहां उत्पाद शुल्क डीजल पर 3.46 रुपए प्रति लीटर था वही जून 2020 में केंद्र सरकार ने बढ़ाकर 31.83 रुपए प्रति लीटर कर दिया है इसके साथ ही पेट्रोल पर जो उत्पाद शुल्क 2014 में 9.20 प्रति लीटर था वह बढ़ाकर 32. 98 प्रति लीटर कर दिया गया है।

Congress
rahul Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned