MODI सरकार जल्द दे सकती है मिडिल क्लास को तोहफा

आर्थिक मंदी के बीच सरकार जल्द ही सालाना 10 लाख तक कमाने वाले लोगों को आयकर में बड़ी राहत दे सकती है.आपको बता दे छह दशक पुराने आयकर एक्ट में बदलाव के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के सदस्य अखिलेश रंजन की अध्यक्षता में गठित टास्क फोर्स ने आयकर दाताओं के लिए बड़ी राहत की सिफारिश की है. यदि इन्हें स्वीकार किया जाता है तो सालाना 5 लाख तक की आय वाले लोगों को मिल रही मौजूदा छूट जारी रहेगी यानि उन्हें आगे भी टैक्स नहीं देना होगा. सालाना 5 से 10 लाख रुपए कमाने वालों को केवल 10 % (मौजूदा दर से आधी) आयकर देना होगा. टास्क फोर्स ने 10 से 20 लाख रुपए वार्षिक आय पर 20 % आयकर (मौजूदा दर 30 % ) की भी सिफारिश की है.


आइये आपको बता दे वर्तमान में मौजूदा स्लैब और आयकर दर कितनी है वही अगर सिफारिश मान ली जाती है तो कितनी हो जाएगी..

मौजूदा स्लैब व आयकर दर
सालाना आय दर
2.5 लाख रुपए तक शून्य
2.5 से 5 लाख 5%
5से 10 लाख 20%
10 लाख से अधिक 30%
2 करोड़ से ज्यादा 35%

सिफारिश जो टास्क फोर्स ने की
सालाना आय दर
2.5 लाख रुपए तक शून्य
2.5 से 10 लाख 10%
10 से 20 लाख 20%
20 लाख से 2 करोड़ 30%
2 करोड़ से ज्यादा 35%

आपको बता दे टास्क फोर्स ने मौजूदा स्लैब की संख्या को भी 4से बढ़ाकर 5 करने की सिफारिश की है. प्रत्यक्ष कर कोड में बदलाव के लिए यह टास्क फोर्स नवंबर 2017 को बनी थी. टास्क फोर्स ने अपनी रिपोर्ट 19 अगस्त को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को सौंप दी थी, लेकिन इसे अभी तक सार्वजनिक नहीं कि या गया है

आर्थिक मंदी के बीच सरकार जल्द ही सालाना 10 लाख तक कमाने वाले लोगों को आयकर में बड़ी राहत दे सकती है.आपको बता दे छह दशक पुराने आयकर एक्ट में बदलाव के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के सदस्य अखिलेश रंजन की अध्यक्षता में गठित टास्क फोर्स ने आयकर दाताओं के लिए बड़ी राहत की सिफारिश की है. यदि इन्हें स्वीकार किया जाता है तो सालाना 5 लाख तक की आय वाले लोगों को मिल रही मौजूदा छूट जारी रहेगी यानि उन्हें आगे भी टैक्स नहीं देना होगा. सालाना 5 से 10 लाख रुपए कमाने वालों को केवल 10 % (मौजूदा दर से आधी) आयकर देना होगा. टास्क फोर्स ने 10 से 20 लाख रुपए वार्षिक आय पर 20 % आयकर (मौजूदा दर 30 % ) की भी सिफारिश की है.


आइये आपको बता दे वर्तमान में मौजूदा स्लैब और आयकर दर कितनी है वही अगर सिफारिश मान ली जाती है तो कितनी हो जाएगी..

मौजूदा स्लैब व आयकर दर
सालाना आय दर
2.5 लाख रुपए तक शून्य
2.5 से 5 लाख 5%
5से 10 लाख 20%
10 लाख से अधिक 30%
2 करोड़ से ज्यादा 35%

सिफारिश जो टास्क फोर्स ने की
सालाना आय दर
2.5 लाख रुपए तक शून्य
2.5 से 10 लाख 10%
10 से 20 लाख 20%
20 लाख से 2 करोड़ 30%
2 करोड़ से ज्यादा 35%

आपको बता दे टास्क फोर्स ने मौजूदा स्लैब की संख्या को भी 4से बढ़ाकर 5 करने की सिफारिश की है. प्रत्यक्ष कर कोड में बदलाव के लिए यह टास्क फोर्स नवंबर 2017 को बनी थी. टास्क फोर्स ने अपनी रिपोर्ट 19 अगस्त को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को सौंप दी थी, लेकिन इसे अभी तक सार्वजनिक नहीं कि या गया है

Kartik Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned