scriptमानसून मेहरबान… मेघ मल्हार | Monsoon is kind… Megha Malhar | Patrika News
जयपुर

मानसून मेहरबान… मेघ मल्हार

कल से दो दिन बारिश का दौर धीमा रहने के आसार
10 से 15 जुलाई के मध्य जमकर बरसेंगे मेघ

जयपुरJul 06, 2024 / 11:02 am

anand yadav

प्रदेश के चार जिलों में मूसलाधार बारिश का दौर
कल से दो दिन बारिश का दौर धीमा रहने के आसार
10 से 15 जुलाई के मध्य जमकर बरसेंगे मेघ

जयपुर। प्रदेशभर में मानसून सक्रिय होने के साथ ही झमाझम बारिश का दौर चल रहा है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश के चार जिलों को मेघों ने जमकर तर कर दिया। टोंक जिले में सर्वाधिक बारिश हुई वहीं जयपुर समेत कई जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने पर मौसम सुहावना हो गया। मौसम विभाग ने कल से दो दिन बारिश की गतिविधियां थोड़ी धीमी पड़ने व 10 जुलाई से फिर मौसम तंत्र सक्रिय होने पर कई जिलों में बारिश का दौर शुरू होने की उम्मीद जताई है।
पिछले चौबीस घंटे में टोंक, सवाई माधोपुर, केकड़ी, कोटा, करौली, डीडवाना, बूंदी और बारां जिले में कहीं मध्यम तो कहीं तेज बारिश का दौर रहा। टोंक 137 देवली 162, मालपुरा 144,पीपलू 142, बीसलपुर बांध 141, अलीगढ 130, नासिरदा 125, पनवार सागर 125, दूनी 123, टोरडीसागर 122 और पीपलू में 120 मिमी बारिश मापी गई। सवाईमाधोपुर के चौथ का बरवाड़ा में 93 और खंडार में 71 मिमी पानी बरसा। कोटा के खातोली में 182, केकड़ी में टोडारायसिंह 126, करौली 121, श्रीमहावीरजी 128, डीडवाना के परबतसर में 71, बूंदी के नैनवां में 116, हिण्डोली 85, बारां में शाहबाद 195, किशनगंज 98 मिमी बारिश दर्ज की गई।
जयपुर शहर में सुबह 8.30 बजे तक 21 मिमी बारिश हुई। शहर में रात से बादल छाए रहे और सूर्यदेव भी बादलों की ओट में छिपे रहे जिसके चलते शहरवासियों को गर्मी और उमस से राहत मिली।
मौसम विभाग के अनुसार आज अलवर, बारां, दौसा, भरतपुर, करौली जिले में कहीं कहीं भारी बारिश के एक दो दौर चलने की संभावना है। वहीं बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, जयपुर, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाई माधोपुर, सीकर और टोंक जिले में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
बीसलपुर बांध में दो माह जलापूर्ति लायक पानी आया
जयपुर, टोंक, दौसा और अजमेर जिले की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध से इस बार समय से पहले ही खुश खबर दी है। बांध में सामान्यतया अगस्त माह से पानी की आवक शुरू होती है लेकिन पिछले 24 घंटे में बांध के कैचमेंट एरिया में हुई करीब छह इंच बारिश ने बांध में दो महीने जलापूर्ति लायक पानी के कोटे का इंतजाम कर दिया है। पिछले 24 घंटे में बांध का जलस्तर 52 सेंटीमीटर बढ़कर सुबह 6 बजे तक 310.15 आरएल मीटर पहुंच गया है। मालूम हो बांध की कुल जलभराव क्षमता 315.50 आरएल मीटर है और अभी मानसून की शुरूआत भर है। वहीं आगामी दिनों में बनास नदी से बांध में पानी की बंपर आवक होने पर बांध ओवरफ्लो होने की उम्मीद सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने जताई है।
हाड़ौती अंचल में झमाझम
कोटा जिले में भी मेघ जमकर मेहरबान हुए। जिले में इटावा स्टेट हाईवे 70 बाधित रहा। खातोली पार्वती नदी के पुल पर दो फीट चादर चली। बारिश से कोटा-श्योपुर, ग्वालियर मार्ग बाधित हो गया जिसके चलते प्रदेश का मध्य प्रदेश से संपर्क कट गया है। पानी की आवक तेज होने पर चंबल, कालीसिंध नदी में भी पानी का बहाव तेज हो गया है।

Hindi News/ Jaipur / मानसून मेहरबान… मेघ मल्हार

ट्रेंडिंग वीडियो