मानसून में रफ्तार, राजस्थान में 20 जून तक हो सकती हैं एंट्री

Rajasthan monsoon 2020: एक जून को देश में आया मानसून इस बार सक्रिय बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिम मानसूनी हवाओं की रफ्तार को देखते हुए राजस्थान में मानसून की एंट्री इस बार समय से पहले हो सकती है।

By: kamlesh

Published: 14 Jun 2020, 08:28 PM IST

विजय शर्मा/जयपुर। एक जून को देश में आया मानसून इस बार सक्रिय बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिम मानसूनी हवाओं की रफ्तार को देखते हुए राजस्थान में मानसून की एंट्री इस बार समय से पहले हो सकती है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो इस बार प्रदेश में मानसून की दस्तक पांच दिन पहले हो जाएगी।

फिलहाल मानसून की संभावनाओं को देखते हुए 25 जून तक आने वाला मानसून 20 जून तक राजस्थान में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राजधानी जयपुर में मानसून 24 जून तक आने की संभावना है। पूरे प्रदेश में मानसून 26 जून तक छा जाएगा। अगर मानसून समय से पहले आता है तो ऐसा पहली बार होगा। पिछले दो सालों में देखें तो 2019 में मानसून 2 जुलाई और 2018 में 28 जून को आया था।

इसीलिए आ रहा मानसून जल्दी
मौसम विभाग जयपुर के निदेशक शिव गणेश का कहना है कि एक जून को देश में आने के बाद अक्सर मानसून कमजोर पड़ जाता है। ऐसे में आठ से 10 दिन मानसून देरी से चलता है। इस बार बंगाल की खाड़ी में कम दवाब क्षेत्र लगातार बन रहा है। ऐसे में लगातार मानसूनी हवाओं को लगातार नमी मिल रही है।

यही कारण है कि ओडिशा, झारखंड, छत्तीसगढ़, बिहार और गुजरात में आया मानसून चार से पांच दिन पहले ही पहुंच गया। मानसून की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए राजस्थान में भी इसकी दस्तक जल्दी होगी।

इस बार होगी औसत बारिश, प्री मानसून ने भी बनाए रेकॉर्ड
राजस्थान में इस बार मानसून में औसत बारिश रहने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में इस बार 107 फीसदी बारिश होगी। वहीं, प्री मानसून की बात करें तो प्रदेश में रेकॉर्ड बारिश हुई है। मार्च से लेकर 31 मई तक प्रदेश में सामान्य से 130 फीसदी बारिश हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned