scriptMonsoon shadowed the country, eight percent less rain in June | देश पर छाया मानसून,जून में आठ फीसदी बारिश कम | Patrika News

देश पर छाया मानसून,जून में आठ फीसदी बारिश कम

दक्षिण-पश्चिम मानसून अब पूरे देश में छा गया है। देश में इस महीने मानसून के बेहतर रहने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार जुलाई में औसत से 94 से 106 फीसदी के बीच बारिश हो सकती है। इस महीने के पहले सप्ताह में देशभर में औसत से अधिक बारिश का अनुमान है। हरियाणा, पंजाब और राजस्थान के कुछ हिस्सों में जहां मानसून का आना बाकी था वहां भी पहुंच गया है।

जयपुर

Published: July 02, 2022 07:55:27 pm

दक्षिण-पश्चिम मानसून अब पूरे देश में छा गया है। देश में इस महीने मानसून के बेहतर रहने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार जुलाई में औसत से 94 से 106 फीसदी के बीच बारिश हो सकती है। इस महीने के पहले सप्ताह में देशभर में औसत से अधिक बारिश का अनुमान है। हरियाणा, पंजाब और राजस्थान के कुछ हिस्सों में जहां मानसून का आना बाकी था वहां भी पहुंच गया है।

bihar_mansoon.jpg

अच्छी बारिश के संकेत से जून के घाटे की पूर्ति होने की संभावना है। मध्य क्षेत्रों में बारिश की कमी के कारण पिछले महीने औसत से 8 प्रतिशत कम पानी बरसा। जून के अंतिम दिन मानसून के पश्चिमोत्तर राज्यों में प्रवेश करने के बाद शुक्रवार को यह घाटा कम होकर छह फीसदी रह गया। मौसम विभाग का अनुमान है कि मानसून अब बेहतर चरण में प्रवेश कर गया है।


बारिश से किसानों के चेहरे खिले

जुलाई में अच्छे मानसून की संभावना से देशभर में खेती को लेकर उम्मीदें बढ़ी हैं। यह महीना खासकर धान के लिए महत्त्वपूर्ण होता है। जून में सही बारिश नहीं होने से बुवाई पर असर पड़ा है। कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 24 जून तक पिछले साल के मुकाबले देश में 23.81 प्रतिशत खरीफ की बुवाई कम हुई है। धान की बुवाई पिछले साल के मुकाबले 45.62 प्रतिशत कम दर्ज की गई है। वर्ष 2021 में जून के चौथे सप्ताह तक 36.03 लाख हेक्टेयर में धान की बुवाई की जा चुकी थी। इस वर्ष 19.59 लाख टन ही बुवाई की गई है। यानी पिछले साल के मुकाबले 16.44 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई शुरू नहीं हो पाई है।


जून में पश्चिमी हवाओं ने रोकी थी चाल

मानसून ने तय तारीख 1 जून से पहले ही 29 मई को दस्तक दे दी थी, पर शुरुआत में चाल सुस्त बनी रही। 11 जून तक देश में 43% कम बारिश दर्ज की। पाकिस्तान से चलने वाली पश्चिमी हवाओं के कारण जून में कोई विशेष मानसून सिस्टम विकसित नहीं हो पाया।

अत्यधिक बारिश: मेघालय और तमिलनाडु।

अधिक बारिश: अरुणाचल प्रदेश, असम, जम्मू-कश्मीर और सिक्किम।

सामान्य वर्षा: नगालैंड, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, बिहार, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, मध्यप्रदेश, गोवा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पुड्डुचेरी, कर्नाटक, लक्षद्वीप।

सामान्य से कम वर्षा: मणिपुर, मिजोरम, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख, ओडिशा, गुजरात, दादर-नागर हवेली और दमन व दीव, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, अंडमान-निकोबार, केरल।

(एक जुलाई तक आंकड़े, मौसम विभाग)

newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएमनाम लिए बिना PM मोदी पर नीतीश का हमला, बोले- '2014 वाले 2024 में रहेंगे तब न, विपक्ष में हमलोग आ गए हैं अब सब होगा'Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली सीएम पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी CM, कैबिनेट विस्तार बाद मेंINS Vikrant Cheating Case: बीजेपी नेता किरीट सोमैया और उनके बेटे नील को मिली बेल, जानें क्या है आईएनएस विक्रांत चीटिंग मामलाAAP का BJP पर बड़ा आरोप- दिल्ली MCD में 6000 करोड़ रुपए का हुआ घोटाला, CBI जांच के लिए मनीष सिसोदिया ने उपराज्यपाल को लिखा पत्रMaharashtra: प्रियंका चतुर्वेदी की बड़ी भविष्यवाणी-गिर जाएगी शिंदे सरकार, फडणवीस पर भी साधा निशानाअदालत न देती दखल तो तेजस्विन शंकर नहीं जीत पाते ब्रॉन्ज मेडल, दिलचस्प है कॉमनवेल्थ गेम्स तक का सफरड्रग केस में फंसे अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को बड़ी राहत , पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से मिली जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.