पानी में ज्यादा एल्युमिनियम, अलर्ट मोड में आया जिला प्रशासन

केन्द्रीय रिपोर्ट के बाद पानी की गुणवत्ता पर उठे सवाल...कार्यवाह कलक्टर ने मांगा स्पष्टीकरण

जयपुर। केन्द्रीय रिपोर्ट में शहर के कई इलााकों में पानी में एल्यूमिनियम की मात्रा ज्यादा होने की स्थिति सामने आने के बाद जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। कार्यवाहक कलक्टर इकबाल खान ने जलदाय विभाग को ऐसे दस जगह से पानी के सैंपल लेकर पानी की गुणवत्ता का आकलन करने के निर्देश दे दिए हैं। साथ ही अब सैंपलिंग का तुलनात्मक विश्लेषण करना ही होगा। कलक्ट्रेट में सोमवार को हुई समीक्षा बैठक में उन्होंने जलदाय विभाग के अफसरों से स्पष्टीकरण मांगा कि किस आधार पर केन्द्रीय एजेंसी की रिपोर्ट में शहर के दस स्थानों पर पानी के नमूनों में एल्यूमिनियम अधिक होना अंकित है। इस पर अफसरों ने अपने बचाव में तर्क दिया कि अक्टूबर के बाद से शहर में टैंकरों द्वारा निजी नलकूपों से आपूर्ति बंद की जा चुकी है, इसलिए अब ऐसी स्थिति नहीं आएगी। अब ज्यादातर इलाकों में बीसलपुर का पानी आपूर्ति किया जा रहा है। यहां एल्युमिनियम मिलने की संभावना नहीं होगी, क्योंकि पानी को अब पॉलिएलुमिनियम क्लोराइड से ट्रीट किया जा रहा है।

यह तर्क सुनने के बाद खान ने पीएचईडी और चिकित्सा अधिकारियों द्वारा उसी जगह से दोबारा सैम्पल लेकर जांच रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। उन्होंने केन्द्रीय एजेंसी की ओर से पानी के सेम्पलों के विश्लेषण के लिए आदर्श मानकों और अनुमत मानकों को अपनाए जाने पर भी स्पष्टीकरण मांगा है। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर अशोक कुमार, ईस्ट राजीव पाण्डे के अलावा जेडीए, नगर निगम, पशुपालन, डिस्कॉम, चिकित्सा, पीडब्ल्यूडी सहित कई विभागों के अधिकारी शामिल हुए।

Bhavnesh Gupta Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned