मां के प्रेमी की हत्या, बेटा सहित तीन गिरफ्तार

सात महीने पहले हुए ब्लाइंड मर्डर का खुलासा

By: Lalit Tiwari

Published: 14 Jan 2021, 10:03 PM IST

कानोता थाना पुलिस ने गुरुवार को सात माह पूर्व हुए ब्लाइंड मर्डर का पर्दाफाश कर दो आदतन अपराधी सहित तीन जनों को गिरफ्तार किया हैं। बदमाशों ने हत्या करने के बाद पेड़ पर शव को लटका दिया था ताकि उसे आत्महत्या का रूप दिया जा सके।
डीसीपी (पूर्व) अभिजीत सिंह ने बताया कि 17 जुलाई 2020 को कानोता थाना इलाके में केशव विद्यापीठ जामडोली चैराहे पर पे़ड़ से लटका हुआ सुबोध कुमार शर्मा का शव मिला था। मृतक के भाई की रिपोर्ट पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया था। पुलिस को भी शुरू से हत्या का अंदेशा था। शव के पैर जमीन को छू रहे थे और शरीर पर चोट के निशान थे। इसके बाद पुलिस ने जांच करते हुए मोहित मीना, कैलाश मीना और रवि गुर्जर को गिरफ्तार किया है। मृतक सुबोध शर्मा आरोपी मोहित मीना की मां के साथ लीव इन रिलेशन में रहता था। वह मोहित, उसकी मां और दूसरे बच्चों से मारपीट करता था। इसी वजह उसकी हत्या कर शव को पेड़ से लटकाकर आत्महत्या बताने की कोशिश की गई।

इस तरह हुआ खुलासा-
अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त पूर्व राजर्षि वर्मा ने बताया कि हत्या मामले में आरोपी मोहित मीना से पूछताछ की। जिसमें उसने बताया कि मृतक सुबोध उसकी मां के साथ मारपीट करता था। हत्या वाली रात को विवाद हुआ जिसमें उसकी मां के साथ मारपीट की। जब पर छुड़ाने की कोशिश करने लगा तो उसे भी मारा। एसीपी बस्सी सुरेश सांखला ने बताया कि मारपीट के बाद रवि गुर्जर और उसके मामा कैलाशचंद मीना गाड़ी लेकर आए। सुबोध को तलाशने के बाद उसे गाड़ी में बैठाया। जिसमें रवि गुर्जर ने गला दबाकर सुबोध को मार दिया। इसके बाद उसे रास्ते में रखवाली के लिए उतारते हुए दोनों ने मिलकर पेड़ पर लटका दिया।

आदतन मुलजिम है आरोपी
थानाधिकारी धीरेन्द्र सिंह शेखावत ने बताया कि आरोपी रविकुमार गुर्जर के खिलाफ अलग अलग थानों में पांच मामले दर्ज है वहीं कैलाशचंद मीना के खिलाफ तीन मामले दर्ज है।

Show More
Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned