scriptब्लड सैंपल देने के बाद सांसद राजकुमार रोत करेंगे ये काम, शिक्षामंत्री दिलावर की फिर बढ़ी मुश्किलें | MP Rajkumar Rot will do this work after giving blood sample, problems for Education Minister Dilawar increased again | Patrika News
जयपुर

ब्लड सैंपल देने के बाद सांसद राजकुमार रोत करेंगे ये काम, शिक्षामंत्री दिलावर की फिर बढ़ी मुश्किलें

राजस्थान के शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के आदिवासियों के डीएनए जांच करने वाले बयान पर शनिवार को भारत आदिवासी पार्टी नेता व बांसवाड़ा सासंद राजकुमार रोत ने ब्लड सैंपल देने के बाद बड़ा ऐलान किया है।

जयपुरJun 29, 2024 / 03:04 pm

Lokendra Sainger

राजस्थान में आदिवासी और हिंदू की लड़ाई सड़क तक आ गई है। जिससे प्रदेश की राजनीति में बवाल मच गया है। राजस्थान के शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के आदिवासियों के डीएनए जांच करने वाले बयान पर शनिवार को भारत आदिवासी पार्टी नेता व बांसवाड़ा सासंद राजकुमार रोत ने डीएनए टेस्ट के लिए अपना ब्लड सैंपल दिया है। रोत को पुलिस ने विधानसभा के सामने ही रोक दिया। इस दौरान उनके साथ गंगापुर सिटी से कांग्रेस विधायक रामकेश मीणा और AICC सचिव धीरज गुर्जर भी मौजूद थे।
सांसद राजकुमार रोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमें पुलिस ने रोक लिया है। आज मैं मंत्री मदन दिलावर से कहा चाहता हूं कि या तो वो माफ़ी मांगे या फिर भारतीय जनता पार्टी उन्हें मंत्री पद से हटाए। उन्होंने कहा कि मदन दिलावर के बयान से आदिवासियों के सम्मान को ठेस पहुंची है। रोत ने कहा कि मंत्री के बयान का हम विधानसभा में भी विरोध करेंगे, लोकसभा में भी विरोध करेंगे’।
दरअसल, इसकी शुरूआत भारतीय आदिवासी पार्टी से नवनिर्वाचित सांसद राजकुमार रोत के बयान से शुरू हुई। जहां सांसद रोत ने खुद को हिंदू होने से इनकार कर दिया। जिसके बाद शिक्षामंत्री मदन दिलावर ने हमलावर होते हुए डीएनए जांच की मांग कर डाली। दिलावर के बयान का पलटवार करते हुए 22 जून को रोत ने उनके घर ब्लड सैंपल पहुंचाने का अभियान शुरू किया था।

‘मैं हिंदू नहीं…’ – राजकुमार रोत

बांसवाड़ा से सांसद राजकुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि ‘मैं हिंदू नहीं हूं और आदिवासी का धर्म हिंदू नहीं है। उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म का अपना रीति रिवाज अलग है और आदिवासी जाति समुदाय अलग है, आदिवासी जाति हिंदू नहीं है’।
जब उनसे पूछा गया कि उनका नाम राजकुमार भी हिंदू धर्म से ही जुड़ा है, तो उन्होंने कहा कि ‘किस ग्रंथ में लिखा हुआ है कि राजकुमार नाम हिंदू धर्म का है। हम हिंदू धर्म नहीं मानते, न हीं ईसाई धर्म मानते हैं। उन्होंने चुन्नीलाल गरासिया का उदाहरण देते हुए कहा कि चुन्नीलाल ने भी अपने नॉमिनेशन फॉर्म में धर्म के कॉलम में हिंदू नहीं लिखा था।

‘DNA की जांच करवा लेंगे’- शिक्षामंत्री

सांसद राजकुमार रोत के इस बयान पर शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘जो लोग और पार्टी देश और समाज को तोड़ने का काम करे, उसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। आदिवासी हिंदू हैं कि नहीं, यह उनके पूर्वजों से पूछ लेंगे। रोत व आदिवासियों के डीएनए की जांच भी करवा लेंगे’।

जबाव में रोत ने ब्लड सैंपल देने का किया था ऐलान

जिसके बाद राजकुमार रोत ने इस विवाद को हवा देते हुए दिलावर पर सोशल मीडिया के जरिए हमला बोला। उन्होंने कहा कि ‘बयान के विरोध में मैं शिक्षा मंत्री के सरकारी आवास पर 29 जून को ब्लड सैंपल देने पहुंच रहा हूं’। सांसद के इस बयान के बाद राजस्थान की सियासत में हड़कंप मच गया।

Hindi News/ Jaipur / ब्लड सैंपल देने के बाद सांसद राजकुमार रोत करेंगे ये काम, शिक्षामंत्री दिलावर की फिर बढ़ी मुश्किलें

ट्रेंडिंग वीडियो