मोहर्रम: आसमां देख ले जलवा हुसैन का....

मोहर्रम: आसमां देख ले जलवा हुसैन का....

हजरत इमाम हुसैन की शहादत की याद में गुरुवार को चालीसवें के मोहर्रम पर शहर में ताजिए निकाले गए। गुरुवार दोपहर में शहर के सभी ताजिए सीमेंट रोड पर एकत्र हुए। यहां पहलवान मेहमूद की अगुवाई में कलाकारों ने अखाड़े के हैरतअंगेज करतब दिखाए।

हजरत इमाम हुसैन की शहादत की याद में गुरुवार को चालीसवें के मोहर्रम पर शहर में ताजिए निकाले गए। गुरुवार दोपहर में शहर के सभी ताजिए सीमेंट रोड पर एकत्र हुए। यहां पहलवान मेहमूद की अगुवाई में कलाकारों ने अखाड़े के हैरतअंगेज करतब दिखाए।

करीब तीन बजे सभी ताजिए कतारबद्व होकर मातमी धुन के बीच करबला के लिए रवाना हुए। रात को करबला में सभी ताजिए ठंडे किए गए। वहीं हुसैनी सोसायटी के जिलाध्यक्ष राशिद अली ने बताया कि 35 बड़े व 3 छोटे ताजिए निकाले।

झालरापाटन. मुस्लिम समुदाय की ओर से गुरुवार को हजरत इमाम हुसैन की याद में चालीसवें के  ताजिए निकाले गए। समाज की अलग-अलग पंचायतों की ओर से निकाले गए ताजिए विभिन्न मार्गों सें होते हुए दोपहर को सूर्य मंदिर पर एकत्र हुए। जहां से बैंड़बाजों, ढोल-ताशों की धुन पर ताजिए निकाले गए।

इस दौरान लोगों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए। मार्ग में जगह जगह छबीले लगाई। ताजिए के जुलूस में समाज के लोग मसीहे पढ़ते हुए व नवयुवक  या अली या हुसैन के नारे लगाते चल रहे थे। जुलूस मुख्य मार्गों से होता हुआ गौमती सागर तालाब पहुंचा। जहां देर रात ताजियों को ठण्डा किया। इस दौरान जगह-जगह पुलिस बल तैनात रहा।

पनवाड़. कस्बे में इमाम हुसैन की याद में मुस्लिम समुदाय द्वारा गुरुवार को मातमी धुनों के साथ मोहर्रम के 40 वे के ताजिए धूमधाम से निकाले गए। मोहर्रम सदर कदीर खान ने बताया कि ताजिए छोटी मस्जिद से शुरू होकर पुलिस चौकी प्रांगण, पुराना बाजार, मेहरो का मौहल्ला होते हुए जामा मस्जिद तक निकाले गए। मार्ग में समाज के लोग उम्र दराजी की कामना को लेकर ताजिए के नीचे होकर निकले। ताजिए दहीखेड़ा के पास उजाड़ नदी में ठण्डे किए।

आवर. कस्बे में गुरुवार को हजरत इमाम हुसैन की शहादत की याद में चालिसवे के ताजियों का जुलूस निकाला।

इस दौरान एक दर्जन से अधिक युवकों ने लाग का प्रदर्शन किया। ताजियों का जुलूस दोपहर तीन बजे बाद तुरकाना मोहल्ले से शुरु हुआ जो जामा मज्जिद, पुरानी कचहरी, बड़ी सैरी, रिसाला मोहल्ले होते हुए बस स्टैण्ड पर पहुंचा। जहां पर ताजियों को मुकाम दिया।

भालता. मुहर्रम के अवसर पर 11 ताजिए मातमी धुन में निकाले। जुलूस सुबह 11 बजे हाट-चौकी, लखारा चौकी से निकला, जो गणेश मंदिर, मुख्य बाजार होते हुए रूहेला मोहल्ला, पुराना थाना, होते हुए हाटचोक पहुंचे। खजांची हाजी आबिद हुसैन ने बताया की ताजिए छापी नदी में ठण्डे किए।
 चौमहला. ईमाम हुसेन की याद में मातमी धुनों के साथ 40 वें मोहर्रम के ताजीये कस्बे में निकाले गए। नौ जंवा हुसैनी कमेटी की सदारत में ताजीये निकाले। वेलफेयर हुसेनी कमेटी की ओर से लंगर की व्यवस्था की। इस अवसर पर चौमहला-गंगधार, चिश्तीपुरा, मल्हारगंज आदि जगहों से आए मोमीनों ने भाग लिया।
रायपुर.रायपुर. कस्बे में इमाम हुसैन की शहादत की याद में चालीसवें के मोहर्रम निकाले।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned