75 वर्षीय वृद्धा की निर्मम हत्या, हाथ—पैर काटकर चांदी के कड़े ले गया हत्यारा

- बगरू थाना इलाके के धानक्या गांव की घटना
- गला व सिर पर मिले गंभीर चोटों के निशान
- सोने-चांदी के आभूषण लूट ले गए बदमाश
- पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे, जुटाए साक्ष्य

By: Devendra Sharma

Updated: 24 May 2020, 10:49 PM IST

जयपुर, कालवाड़। बगरू थाना इलाके के धानक्या गांव में रविवार दोपहर को घर में सो रही एक वृद्धा की निर्मल हत्या से सनसनी फैलग गइै। अज्ञात आरोपियों ने हत्या भी वृद्धा के आभूषणों को लूटने के उद्देश्य से की। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। हालांकि हत्यारों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। पुलिस, डॉग स्क्वॉवड और एफएसएल ने मौके से साक्ष्य जुटाए है।
थानाधिकारी ब्रज भूषण अग्रवाल ने बताया कि धानक्या गांव के रैगर मोहल्ला निवासी प्रभाती देवी (75) पत्नी कानाराम अपने पैतृक मकान के एक कमरे में दोपहर के समय सो रही थी। इसी दौरान अज्ञात बदमाश कमरे में गए और धारदार हथियार से हाथ पैर-काटकर आभूषण लूटकर फरार हो गए। शाम को जब परिजन पहुंचे तो वृद्धा का क्षत-विक्षत शव देख बेसुध हो गए। चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग एकत्र हुए और पुलिस को जानकारी दी।

गली से आकर मकान में घुसे

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हत्या लूट के इरादे से की गई है। बदमाश गली के अंदर से मकान में घुसे और कमरे में पहुंचे। वारदात के समय मृतका के दो बेटे गांव के ही दूसरे मकान में थे। पुलिस ने मृतका के बड़े बेटे लालाराम से पूछताछ की तो उसने कुछ लोगों पर संदेह जताया है। वृद्धा लंबे समय से इसी मकान के एक कमरे में रहती थी जबकि दोनों बेटे नए मकान में रह रहे हैं।

गला रेता, पैर हाथ काटे

बुजुर्ग महिला की हत्या के बाद जब पुलिस कमरे में गई तो वहां चारों तरफ खून बिखरा हुआ था। महिला के क्षत-विक्षत शव को देखकर पुलिस भी दंग रह गई। अज्ञात आरोपियों ने महिला के गले को रेत कर हत्या की है। उसके पैर व हाथ काटकर के चांदी के कड़े निकाले है। साथ ही कानों में पहले सोने के जेवरात भी पार किए। देर शाम पुलिस जांच के बाद मृतका का शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया। सोमवार को पोस्टमार्टम होगा।

जानकार पर भी संदेह

वृद्ध महिला प्रभाती देवी की हत्या के बाद गांव में कोहराम मच गया। दोनों बेटे लालाराम व पवन सहित अन्य परिजन बार-बार शव देखकर बेसुध हो रहे थे। आसपास के लोगों ने मृतका के परिजनों को ढांढस बंधाया। जांच में सामने आया कि गांव का एक व्यक्ति लगातार कुछ दिनों से महिला के पास आ रहा था। मामले में कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एसीपी राय सिंह बेनीवाल ने बताया कि किसी वारदात में किसी गिरोह का हाथ नहीं लग रहा है, गांव के ही किसी शख्स ने यह किया है। जांच के बाद ही स्पष्ट होगा कि हत्या किसने की। मृतका के दोनों बच्चे दूसरे मकान मे रहते थे और लूट के इरादे से किसी ने यह वारदात की है।

Devendra Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned