सड़क किनारे मिले शव से सनसनी, हत्या या आत्महत्या के बीच उलझी पुलिस, पोस्टमार्टम की रिपोर्ट से होगा खुलासा

बीलवा में सड़क किनारे मिले शव का मामला, पुलिस जता रही आत्महत्या की आशंका, सवाल- आत्महत्या तो सड़क पर कैसे पहुंचा शव

Rajesh

03 Jan 2018, 11:54 AM IST

जयपुर। नाहरगढ़ किले की प्राचीर पर लटके मिले चेतन की मौत के बाद वहां पर पत्थरों पर लिखे पद्मावती से जुडे शब्दों ने मामले को उलझा दिया था कुछ इसी प्रकार से शिवदासपुरा थाना इलाके में बीलवा में सड़क पर मिले शव के पास मिली पर्ची पर लिखे शब्दों ने राकेश की मौत को रहस्यमय बना दिया है। राकेश के पास मिली पर्ची पर उसकी पत्नी के प्रेमी के मोबाइल नम्बर और कातिल लिखा हुआ है। इस मामले में पुलिस व्यक्ति के आत्महत्या करने की बात कह रही है, लेकिन परिजन हत्या की आशंका व्यक्त कर रहे है।

 

पर सवाल यह है कि अगर राकेश ने आत्महत्या की है तो उसका शव सड़क किनारे कैसे पड़ा मिला। उसके शव को उतार कर सड़क पर किसने और क्यों डाला। क्या इस मामले में राकेश की पत्नी और उसके प्रेमी का किसी प्रकार से हाथ है। इस रहस्य का पता तो पोस्टमार्टम और विसरा की रिपोर्ट आने के बाद ही लग पाएगा। शिवदासपुरा थानाधिकारी दीपक खण्डेलवाल ने बताया कि मृतक राकेश के शव का आज पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही उसकी मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

 

राकेश की जेब में एक पर्ची मिली है जिसमें उसने अपनी पत्नी के प्रेमी के मोबाइल नम्बर के साथ कातिल लिखा हुआ है। घटना के एक दिन पूर्व मृतक की पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसके साथ मारपीट की थी। कुछ समय से राकेश की पत्नी उसे छोड़कर अपने प्रेमी के साथ रह रही है। इसको लेकर उसमें कई बार झगड़े भी हो चुके है। मृतक के गले पर मिले निशान राकेश के आत्महत्या की ओर इंगित कर रहे है। इस मामले में मृतक की पत्नी व उसके प्रेमी से भी पूछताछ की जा रही है। राकेश के आत्महत्या करने के बाद फंसने के डर से उसकी पत्नी व प्रेमी ने मिलकर उसके शव को यहां डाले जाने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

 

गौरतलब है कि बिलवा फाटक पर गार्डन सिटी स्कीम के नजदीक मंगलवार सुबह एक युवक का शव मिला था। शिवदासपुरा थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घटना स्थल से एफएसएल व डॉग स्क्वायड टीम के माध्यम से साक्ष्य जुटाए थे। मृतक की पहचान अरावली अपार्टमेंट में रहने वाले ४० वर्षीय राकेश उर्फ डिंपू के रूप में हुई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए मृतक के शव को महात्मा गांधी हॉस्पिटल के मुर्दाघर में रखवाया था। मृतक के गले पर चोट के निशान थे। एफएसएल ने कि राकेश की मौत फांसी लगने से होना बताया और कहा कि इसके बाद कोई शव को यहां पर पटक कर चला गया। जहां पुलिस को एक युवक का शव पड़ा होने की सूचना मिली थी।

Show More
rajesh walia Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned