scriptMurder of BJP leader in Rajasthan Nagaur Navan, demand of CBI inquiry | नागौर में भाजपा नेता जयपाल पूनिया के मर्डर मामले में आई ये बड़ी खबर, Gehlot सरकार को घेरने में BJP-RLP दिख रहे साथ | Patrika News

नागौर में भाजपा नेता जयपाल पूनिया के मर्डर मामले में आई ये बड़ी खबर, Gehlot सरकार को घेरने में BJP-RLP दिख रहे साथ

- नागौर के नावां सिटी में भाजपा नेता की हत्या मामला - सरकारी उप सचेतक महेंद्र चौधरी के खिलाफ नामजद रिपोर्ट - भाजपा के साथ आरएलपी भी आई आंदोलन के समर्थन में
- सीबीआई जांच की उठने लगी मांग, आंदोलन तेज़ करने का आह्वान - सांसद हनुमान बेनीवाल के बाद आज सतीश पूनिया पहुंचेंगे नावां - महेंद्र चौधरी भी बोले, 'निष्पक्ष जांच हो, मुझे न्याय पर विशवास'

 

जयपुर

Published: May 16, 2022 10:26:25 am

जयपुर।

नागौर में नावां तहसील के भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष जयपाल पूनिया की हत्या का मामला गर्माया हुआ है। इस हाई प्रोफ़ाइल घटनाक्रम की एफआईआर में सरकारी उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज़ होने के बाद इस प्रकरण में सियासी उबाल भी आ गया है। हत्यारों को गिरफ्तार करने और परिजनों को न्याय दिलाने सहित विभिन्न मांगों के समर्थन में ना सिर्फ भाजपा, बल्कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने भी आंदोलन को समर्थन दिया है।आंदोलन में इस प्रकरण की सीबीआई जांच किए जाने की भी मांग उठ रही है।
Murder of BJP leader in Rajasthan Nagaur Navan, demand of CBI inquiry
,,
इधर, नावां में भाजपा नेता की मौत के बाद से न्याय की मांग को लेकर चल रहे धरने में भाजपा और आरएलपी पार्टी के नेताओं के पहुँचने का सिलसिला जारी है। आरएलपी के राष्ट्रीय संयोजक सांसद हनुमान बेनीवाल ने जहां रविवार को सभा स्थल पर पहुंचकर सरकार के खिलाफ आक्रामक तेवर दिखाए, तो वहीं आज भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया के भी सभास्थल पहुँचने का कार्यक्रम है।
मुझे न्याय प्रक्रिया पर भरोसा: चौधरी
भाजपा नेता की हत्या प्रकरण में नामजद रिपोर्ट दर्ज़ होने के बाद उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि जयपाल पूनिया की दिन दहाड़े हत्या होना दुखद घटना है। उच्चाधिकारियों से बात करके दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और हत्यारों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की गई है। पीड़ित परिवार को न्याय मिले इसका समर्थन करता हूँ।
चौधरी ने निष्पक्ष जांच के लिए सदैव तैयार रहने को लेकर आश्वस्त करते हुए कहा कि मुझे न्याय और क़ानून व्यवस्था पर पूरा विशवास है।मामले की निष्पक्ष जांच हो, पीड़ित परिवार को न्याय मिले, इसका समर्थन करता हूँ।
गहलोत शासन में कोई सुरक्षित नहीं: सतीश पूनिया

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने नावां में भाजपा नेता जयपाल पूनिया की हत्या प्रकरण की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा, 'गहलोत शासन में कोई भी सुरक्षित नहीं है, नागौर जिले के नावां में नमक व्यवसायी व भाजपा कार्यकर्ता जयपाल पूनिया की हत्या प्रकरण में मुख्यमंत्री से मांग है कि आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी हो, पीड़ित परिवार को न्याय मिले और हत्याकांड की निष्पक्ष जांच हो।
अपराधी जीत रहे हैं, पुलिस हार रही है: शेखावत

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान की कानून-व्यवस्था को लेकर एकबार फिर मुख्यमंत्री पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अब नावां शहर में विद्युत कार्यालय के बाहर अपराधियों द्वारा खुलेआम फायरिंग का मामला सामने आया है। राजस्थान में अपराधी जीत रहे हैं, पुलिस हार रही है। कारण, गहलोतजी ने पुलिस और इंटेलीजेंस को पक्ष-विपक्ष की जासूसी में लगा रखा है।
शेखावत ने कहा कि एक तरफ अपराधी बेखौफ हैं, दूसरी ओर जनप्रतिनिधियों की निजता खतरे में है। हम विपक्षियों की छोड़िए, उनके ही एक कट्टर प्रतिद्वंद्वी नेता को भी यही शिकायत है। पता नहीं चिंतन शिविर में कांग्रेस आलाकमान तक ये मुद्दा पहुंचा या नहीं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जनता चाहती है कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी राज्य की खत्म हो चुकी कानून-व्यवस्था पर गहलोतजी से सवाल करें।
सत्ता में बैठे लोगों के इशारे पर हुई हत्या : सांसद बेनीवाल
आरएलपी सांसद हनुमान बेनीवाल ने रविवार को नावां में चल रहे धरने में शामिल होकर इस प्रकरण की सीबीआई जांच की अनुशंषा नहीं होने तक लोकतांत्रिक रूप से धरना चलाने का आह्वान किया। सांसद ने कहा कि सत्ता के विरुद्ध जनहित के लिए लड़ाई लड़ने वाले जयपाल की हत्या के मामले में मृतक के परिजनों को न्याय दिलवाने के लिए हमें साथ मिलकर लड़ना होगा। जिस तरह सरे आम किसान के बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी गई, उससे जाहिर है सत्ता में बैठे लोगों के इशारे के बिना यह घटना कारित करना असंभव था।
बेनीवाल ने कहा कि कांग्रेस शासन के समय मंत्री महिपाल मदेरणा, बाबूलाल नागर आदि के मामले में तो त्वरित जांच सीबीआई को दे दी गई। ऐसे मे गहलोत को तत्काल इस मामले की जांच सीबीआई को देने की जरूरत है। सांसद ने कहा कि नावां विधायक सीएम के बहुत नजदीक है और नावां विधायक ने घटना के 24 घन्टे बाद सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे है ,उन्हें सरकार से मामले में सीबीआई जांच करवाने की अनुशंषा की मांग सीएम के समक्ष रखनी चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीकांग्रेस नेता ने शिवसेना के बागी विधायकों से असम छोड़ने का किया अनुरोध, कहा- आपकी उपस्थिति राज्य को कर रही बदनामMaharashtra Political Crisis: उद्धव ठाकरे ने शिंदे खेमे को फटकारा, बोले- मेरे गर्दन और सिर में दर्द था, मैं अपनी आंखें नहीं खोल पा रहा था...Bharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.