Musical Program- सदाबहार गीतों से जीवंत हुआ दिलकश अभिनेता देवानंद का अक्स

शहर के मंचों पर पिछले पांच साल से आयोजित होता आ रहा जयपुर देव फेस्टिवल अपनी छठे पायदान पर इस बार भी ऑनलाइन आयोजित किया गया।

By: Rakhi Hajela

Published: 24 Sep 2021, 11:52 PM IST


तीन दिवसीय जयपुर 'देव फेस्टिवल' शुरू

राजश्री सेमंत हरीश, जय शर्मा और राजेश शर्मा ने दी गीतों की प्रस्तुति

जयपुर। शहर के मंचों पर पिछले पांच साल से आयोजित होता आ रहा जयपुर देव फेस्टिवल अपनी छठे पायदान पर इस बार भी ऑनलाइन आयोजित किया गया। उत्सव की शुरुआत शुक्रवार को कई रंगारंग कार्यक्रमों के साथ हुई। इस मौके पर समारोह संयोजक रवि कामरा ने कार्यक्रम 'कुछ लम्हे' देवानंद के साथ की प्रस्तुति में देवानंद के चार सुपर फेंस दिल्ली के अशोक लाल और किरण कामरा व गुणगांव के माइक राणा व ज्योत्साना राणा से उनकी देवानंद के बारे में सोच और देवानंद की आकृति के साथ जीने की उनकी जिजिविशा पर बातचीत की।
शाम को सजी सदाबहार गीतों की शाम
इसके बाद गायक राजेश शर्मा के निर्देशन में देवानंद पर फिल्माए गए सदाबहार एकल और युगल गीतों की शाम 'देव के नाम सुरमई शामÓ आयोजित की गई। कार्यक्रम में कुल 19 गीतों की इस माला में राजेश शर्मा और राजश्री सेमंत हरीश का गाया 'गाता रहे मेरा दिलÓ,जय शर्मा और राजश्री का गाया 'याद किया दिल ने कहां हो तुमÓ, संजय कौशिक का गाया 'गाता रहे मेरा दिलÓ और अपूर्व शर्मा व राजश्री का गाया 'अच्छा जी मैं हारी चलो मान जाओ नाÓ ऐसे गीत थे जिन्हें सुनकर देवानंद का अल्हड़ और मस्त चेहरा लोगों के सामने जीवंत हो गया।
आज भी होंगे अनेक कार्यक्रम
समारोह के दूसरे दिन 25 सितम्बर को पूरे देश विदेशों में बसे देव दीवानों से सोसाइटी के अध्यक्ष रवि कामरा देवानंद के कृतित्व और व्यक्तित्व पर पैनल डिस्कशन आयोजित करेंगे और सोसाइटी द्वारा पद्मश्री अर्जुन प्रजापति को श्रद्धांजलि दी जाएगी। अर्जुन प्रजापति ने 2019 में इसी समारोह के दौरान देवानंद की मूर्ति बनाकर जयपुर देव फेस्टिवल को भेंट की थी। इस मौके पर संजय कौशिक अर्जुन प्रजापति के पुत्र राजेंद्र प्रजापति से चर्चा भी करेंगे।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned