मेरा जीवन मेरी जिम्मेदारी: एनएसएस का कैम्पेन

मेरा जीवन मेरी जिम्मेदारी: एनएसएस का कैम्पेन
कैम्पेन के जरिए जागरुकता पैदा करने का प्रयास
अधिकारी खुद लगा रहे 'नो मास्क नो एंट्री' के पोस्टर
शॉर्ट मूवी के जरिए आम जन को कर रहे जागरुक

By: Rakhi Hajela

Published: 18 Oct 2020, 03:01 PM IST


कोविड 19 के बढ़ते खतरे के बीच नेशनल कैडेट कोर (एनएसएस) के वॉलेंटियर्स अपनी जान जोखिम में डाल कर आमजन को मेरा जीवन मेरी जिम्मेदारी का मैसेज दे रहे हैं। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर प्रदेश में 2 अक्टूबर से नो मास्क नो एंट्री अभियान की शुरुआत की गई थी जिससे आमजन में कोविड 19 को लेकर जागरुकता पैदा की जा सके। इस अभियान को जनआंदोलन बनाने के लिए एनएसएस के वॉलेंटियर्स मेरा जीवन मेरी जिम्मेदारी का संदेश दे रहे हैं। आपको बता दें कि अभियान के तहत एनएसएस के कैडेट्स ने अधिकारियों के निर्देशन में कोविड 19 से संबंधित प्लेकाड्र्स, पेंटिंग्स, ड्रॉइंग्स तैयार की हैं जिनका प्रदर्शन सार्वजनिक स्थानों पर किया जा रहा है। आमजन कोविड के खतरे को पहचाने इसके लिए घनी आबादी वाले क्षेत्रों में,कच्ची बस्तियों, गोद लिए गए गांवों, के साथ साथ बाजार, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, बैंक आदि जगहों पर मास्क पहनने के फायदे बताए जा रहे हैं, साथ ही निशुल्क मास्क वितरण भी किया जा रहा है। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर, सार्वजनिक यातायात के साधनों जैसे बस, ट्रेन, टैक्सी, ऑटो आदि चिपकाए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर भी चलाया कैम्पेन

कॉलेज शिक्षा विभाग की विभाग की ओर से इस संबंध में सोशल मीडिया पर भी कैम्पेन चलाया गया है। व्हाट्सएप पर ग्रुप बनाकर शॉर्ट मूवीज बनाकर सकुर्लेट की जा रही हैं। विभाग के अधिकारी खुद भी इस काम में लगे हुए हैं। एनएसएस के राज्य प्रभारी खुद विभिन्न जिलों का दौरा कर अभियान के प्रति आमजन को जागरुक कर रहे हैं। स्थानीय दुकानदारों, व्यापारियों, ग्राहकों, सब्जी मंडियों में जागरुकता अभियान चलाकर मास्क पहनने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इस काम में ट्रेफिक पुलिस का भी सहयोग लिया जा रहा है।
इनका कहना है,
नो मास्क नो एंट्री कैम्पेन के तहत मेरा जीवन मेरी जिम्मेदारी का संदेश देते हुए आमजन में कोविड19 के प्रति जागरुकता लाने के प्रयास किए गए हैं। हम सोशाल मीडिया पर कैम्पेन चला रहे हैं साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर भी लोगों को सावधानी बरतने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।
डॉ. बने सिंह, एनएनएस राज्य प्रभारी
कॉलेज शिक्षा विभाग।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned