नाबार्ड ने राजस्थान को चौदह हजार करोड़ रुपए से अधिक दिए

नाबार्ड ने राजस्थान को चौदह हजार करोड़ रुपए से अधिक दिए

Santosh Kumar Trivedi | Publish: Apr, 17 2018 07:34:24 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

नाबार्ड ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान राजस्थान को 14690 करोड रुपए की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई है।

जयपुर। राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान राजस्थान में कृषि एवं ग्रामीण अर्थव्यवस्था के विकास के लिए राज्य सरकार, बैंक एवं निगमों को 14690 करोड रुपए की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई है।

नाबार्ड के मख्य महाप्रबंधक ए के सिंह ने पत्रकारों को बताया कि ग्रामीण बुनियादी ढांचे से संबंधित परियोजनाओं सिचाई ग्रामीण पेयजल, सडकें, पुल, शिक्षा आदि के लिए राज्य सरकार को ऋण उपलबध कराया जा रहा है।

 

मुख्यमंत्री राजे ने जनता के लिए खाेला खजाना, कहा- पैसा भी जनता का, सरकार भी जनता की

 

वित्तीय वर्ष 2017-18 के दौरान नाबार्ड में ग्रामीण अधारभूत विकास संरचना निधि आरआईडीएफ के अन्तर्गत 1851.29 करोड़ के ऋण रियायती दरों पर उपलब्ध कराए।

इस सिचार्इ परियोजनाओं पर 437.95 करोड़ 1614 ग्रामीण सड़कों पर 599.84 करोड़, दो ग्रामीण पेयजल आपूर्ति पिरयोजनाओं के लिए 469.54 करोड़ , कोटा बारां और बूंदी में नहर व्यवस्था के पुनर्निर्माण हेतु 112.46 करोड़ तथा 825 विद्यालयों के निर्माण एवं मरम्मत के लिए 209.72 करोड़ की राशि मंजूर की।

 

गत 15 माह में किशोरियों के साथ दुष्कर्म के 76 मामले दर्ज, इनको न्याय दिलाने के लिए क्यों नहीं उठती आवाज?

 

सिंह ने कहा कि वित्तीय सहायता के परिणाम स्वरूप लगभग दो लाख हेक्टेयर भूमि सिचार्इ के दायरे में आई तथा 86000 किलोमीटर सड़कों /पुलों का निर्माण हुआ।

 

राजस्थान विधानसभा में पिस्टल लेकर आने वाले MLA मनोज न्यांगली दे रहे कॉलेज परीक्षा

 

उन्होंने बताया कि नाबार्ड द्वारा तैयार की गई ऋण संभाव्यता योजनाओं के अनुसार 2018-19 के दौरान प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्र को 1़ 84 लाख करोड रुपए राज्य को मिलेंगे ।

 

Udaipur Sthapana Diwas : ये हसीन वाद‍ियां, ये खुला आसमां... उदयपुर आएंगे तो ये गाना जरूर गाएंगे..

 

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा सहकारी बैंकों का कर्जा माफ करने में नाबार्ड को कोई आर्थिक परेशानी नहीं आएगी तथा कर्ज माफ करने वाले बैंकों को नाबार्ड और आर्थिक मदद करेगा ताकि बैंकों को ऋण देने में संसाधन की कमी नहीं रहे

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned